ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहार औरंगाबादजिले में लगाए जाएंगे चार लाख 44 हजार पौधे

जिले में लगाए जाएंगे चार लाख 44 हजार पौधे

लक्ष्य निर्धारित न न न न न नन न न न न न न नन न नन न न न न न न न नन न न न न न न न न न न न न न न न न न न न न न न नन ...

जिले में लगाए जाएंगे चार लाख 44 हजार पौधे
default image
हिन्दुस्तान टीम,औरंगाबादWed, 12 Jun 2024 08:45 PM
ऐप पर पढ़ें

जिले में 4 लाख 44 हजार पौधे लगाने का लक्ष्य है। ये बातें कार्यक्रम पदाधिकारी ने डीएम की समीक्षा बैठक में कही है। उन्होंने बताया है कि पूर्व में लगाए गए पौधों में 60 प्रतिशत जीवित है। बुधवार को कलक्ट्रेट सभाकक्ष में डीएम श्रीकांत शास्त्री ग्रामीण विकास विभाग के द्वारा संचालित योजनाओं की समीक्षा कर रहे थे। मनरेगा की समीक्षा के क्रम में यह पाया गया है कि जून माह में लक्ष्य के अनुरूप मानव दिवस का सृजन नहीं हुआ है। उन्होंने अभियान चला कर मजदूरों को रोजगार उपलब्ध कराने की बात कही है। साथ ही योजनाओं के चयन में जल संचयन की योजनाओं को प्राथमिकता देने का निर्देश दिया। इसमें सोखता, तालाब, वाटर हार्वेस्टिंग जैसी योजनाएं शामिल होंगी। इससे भूजल स्तर को गिरने से रोका जा सकेगा। लोहिया स्वच्छ बिहार अभियान की समीक्षा के दौरान बीडीओ को व्यक्तिगत शौचालय का लंबित जियो टैग अभिलंब पूर्ण करते हुए लबों को प्रोत्साहन राशि का भुगतान करने का निर्देश दिया गया। यह भी निर्देश दिया गया कि जिन ग्राम पंचायत में ठोस एवं तरल अपशिष्ट प्रबंधन क्रियान्वयन कार्य प्रारंभ किया गया है उसका अनुश्रवण नियमित रूप से करें। यह भी ध्यान देना है कि कचरे का उठाव नियमित रूप से हो। लंबित अपशिष्ट प्रसंस्करण इकाई का निर्माण इस महत्वपूर्ण करने का निर्देश दिया गया। प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण की समीक्षा के दौरान डीसी के द्वारा कहां गया कि पूर्व के लक्ष्य में जो आवास अपूर्ण है उसे जल्द से जल्द पूरा कराने की बात बीडीओ को कही। यह भी कहा गया कि जिला स्तर पर एक वार रूम बनाया जाएगा जो इसकी निगरानी करेगा। बैठक में डीडीसी अभ्येन्द्र मोहन सिंह, लेखा प्रशासन निदेशक आलोक कुमार समेत सभी प्रखंडों के बीडीओ व कार्यक्रम पदाधिकारी थे।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।