ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहार अररियाराज्यस्तरीय अधिकारियों ने अररिया सदर अस्पताल का किया निरीक्षण

राज्यस्तरीय अधिकारियों ने अररिया सदर अस्पताल का किया निरीक्षण

अररिया, संवाददाता स्पेशल न्यू बोर्न केयर यूनिट यानी एसएनसीयू के माध्यम से बीमार नवजात...

राज्यस्तरीय अधिकारियों ने अररिया सदर अस्पताल का किया निरीक्षण
हिन्दुस्तान टीम,अररियाWed, 29 Nov 2023 12:00 AM
ऐप पर पढ़ें

अररिया, संवाददाता
स्पेशल न्यू बोर्न केयर यूनिट यानी एसएनसीयू के माध्यम से बीमार नवजात शिशुओं को गुणवत्तापूर्ण चिकित्सकीय सुविधाओं को लाभ उपलब्ध कराना स्वास्थ्य विभाग की प्राथमिकताओं में शुमार है। इसे लेकर सदर अस्पताल परिसर में संचालित एसएनसीयू में जरूरी चिकित्सकीय सुविधाओं की उपलब्धता व इसे सुविधा संपन्न बनाने को लेकर विभागीय स्तर से जरूरी पहल की जा रही है। एसएनसीयू में उपलब्ध चिकित्स्कीय इंतजाम का जायजा लेने के लिये मंगलवार को राज्य स्वास्थ्य समिति के एसपीओ चाइल्ड हेल्थ डॉ विजय प्रकाश व यूनिसेफ के स्टेट कंस्लटेंट डॉ तारीक ने संयुक्त रूप एसएनसीयू का औचक निरीक्षण किया। इस क्रम में उन्होंने संबंधित स्वास्थ्य अधिकारियों को एसएनसीयू में उपलब्ध चिकित्सकीय इंतजामों की बेहतरी के लिये कई जरूरी निर्देश दिये। मौके पर सदर अस्पताल के डॉ आकाश, एसएनसीयू के चिकित्सक डॉ विमल कुमार, अस्पताल प्रबंधक विकास आनंद, वार्ड इंचार्ज तृष्णा, लूसी, रीना, उमेश भारती सहित अन्य स्वास्थ्य अधिकारी व कर्मी मौजूद थे।

जरूरतमंद नवजात तक पहुंचायें सुविधाओं का लाभ-

निरीक्षण के क्रम में एसपीओ चाइल्ड हेल्थ डॉ विजय प्रकाश ने एसएनसीयू सेवाओं का लाभ अधिक से अधिक जरूरतमंद नवजात को उपलब्ध कराने का निर्देश दिया। उन्होंने जरूरी इलाज के लिये एसएनसीयू में बच्चों के निबंधन की संख्या में बढ़ाने पर जोर दिया। एसएनसीयू में सभी जरूरी दवाओं की उपलब्धता, निर्धारित रोस्टर के मुताबिक चिकित्सक व स्टॉफ की उपलब्धता सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया। डॉ विजय प्रकाश ने एसएनसीयू में वेस्ट मैनेजमेंट के बेहतर इंतजाम सुनिश्चित कराते हुए किसी तरह के संक्रमण पर प्रभावी नियंत्रण को लेकर सभी जरूरी इंतजाम सुनिश्चित कराने का निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिया।

सेवाओं की बेहतरी का प्रयास निरंतर जारी -

अस्पताल प्रबंधक विकास आनंद ने बताया कि एसएनसीयू सेवाओं की बेहतरी के लिये निरंतर जरूरी प्रयास किये जा रहे हैं। पूर्व की तुलना में एसएनसीयू सेवाओं को अधिक प्रभावी व सुविधाजनक बनाया गया है। इस कारण इलाज के लिये एसएनसीयू में दाखिल होने वाले बच्चों की संख्या में भी इजाफा हुआ है। इसे और बेहतर बनाने का प्रयास जारी है। निरीक्षण के क्रम में एसपीओ चाइल्ड हेल्थ के माध्यम से जो जरूरी दिशा निर्देश प्राप्त हुए हैं। इसका प्रभावी क्रियान्वयन बहुत जल्द सुनिश्चित कराया जायेगा।

नवजात सुरक्षा सप्ताह संबंधी कार्यक्रम में लिया भाग -

एसएनसीयू के निरीक्षण के क्रम में सदर अस्पताल पहुंचे एसपीओ चाइल्ड हेल्थ डॉ विजय प्रकाश व यूनिसेफ के कंस्लटेंट डॉ तारीक ने नवजात सुरक्षा सप्ताह के तहत आयोजित जागरूकता कार्यक्रम में अपनी भागीदारी निभाई। 24 से 30 नवंबर तक संचालित इस कार्यक्रम के प्रभावी क्रियान्वयन को लेकर जरूरी निर्देश दिये। कार्यक्रम में जन्म के समय नवजात शिशुओं की। देखभाल, शिशुओं को गर्म रखने, साफ-सफाई का महत्व, शिशुओं में खतरों के लक्षण की पहचान के प्रति लोगों को जागरूक किया गया। कार्यक्रम में पिरामल फाउंडेशन की पूरी टीम, गांधी फेलो नम्रता बेरा, मोईन सांतनु द्वारा जागरूकता संबंधी विभिन्न गतिविधियों का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की सफलता में एसएनसीयू के वार्ड इंचार्ज तृष्णा सहित अन्य कर्मियों ने अपना भरपूर सहयोग दिया।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें