DA Image
19 अक्तूबर, 2020|3:40|IST

अगली स्टोरी

जोकीहाट के धोपकट्टा धार में बना आरसीसी पुल ध्वस्त, बढ़ी मुसीबत

जोकीहाट के धोपकट्टा धार में बना आरसीसी पुल ध्वस्त, बढ़ी मुसीबत

1 / 3जोकीहाट के उदाहाट-तुरकैली चौक को जोड़ने वाली मार्ग पर गैरकी मसूरिया पंचायत में स्थित धोपकट्टा धार पर बना महत्वपूर्ण आरसीसी पुल शनिवार की देर रात ध्वस्त हो गया। पुल के बगल होकर लोग पैदल आ-जा रहे हैं।...

जोकीहाट के धोपकट्टा धार में बना आरसीसी पुल ध्वस्त, बढ़ी मुसीबत

2 / 3जोकीहाट के उदाहाट-तुरकैली चौक को जोड़ने वाली मार्ग पर गैरकी मसूरिया पंचायत में स्थित धोपकट्टा धार पर बना महत्वपूर्ण आरसीसी पुल शनिवार की देर रात ध्वस्त हो गया। पुल के बगल होकर लोग पैदल आ-जा रहे हैं।...

जोकीहाट के धोपकट्टा धार में बना आरसीसी पुल ध्वस्त, बढ़ी मुसीबत

3 / 3जोकीहाट के उदाहाट-तुरकैली चौक को जोड़ने वाली मार्ग पर गैरकी मसूरिया पंचायत में स्थित धोपकट्टा धार पर बना महत्वपूर्ण आरसीसी पुल शनिवार की देर रात ध्वस्त हो गया। पुल के बगल होकर लोग पैदल आ-जा रहे हैं।...

PreviousNext

जोकीहाट के उदाहाट-तुरकैली चौक को जोड़ने वाली मार्ग पर गैरकी मसूरिया पंचायत में स्थित धोपकट्टा धार पर बना महत्वपूर्ण आरसीसी पुल शनिवार की देर रात ध्वस्त हो गया। पुल के बगल होकर लोग पैदल आ-जा रहे हैं। वाहनों के परिचालन पर रोक है। दो माह के भीतर उदाहाट के स्क्रू पाइल पुल के बाद यह दूसरी पुल ध्वस्त होने की घटना है। बताया गया कि इस घटना में सड़क निर्माण कर रहे संवेदक का हाईवा वाहन भी पानी में गिर गया। हालांकि स्थानीय लोगों ने चालक को पानी में गिरे वाहन से किसी तरह से बाहर निकाला। इससे उसकी जान बची। इस पुल के ध्वस्त होने के बाद से प्रखंड क्षेत्र के करीब एक लाख की आबादी का यातायात प्रभावित हो गया है। इससे ग्रामीण क्षेत्र के लोगों की मुसीबत बढ़ गई है। घटना के संबंध में पूर्व मुखिया सह मुखिया प्रतिनिधि इमरान साबिर ने बताया पुल की स्थिति पहले से खराब होने के बाद भी सड़क व पुल निर्माण करा रहे संवेदक के लोडेड भारी वाहन लगातार पार कर रहा था। शनिवार की रात भी संवेदक का हाईवा वाहन गुजर रहा था। इस दौरान बीच में आरसीसी पुल ध्वस्त हो गया। इसके साथ ही हाईवा वाहन पुल से नीचे पानी गिर गया।

तीन साल से जर्जर स्थिति में थी पुल: दरअसल वर्ष 2017 में आई बाढ़ के दौरान ही इस पुल की स्थिति जर्जर हो गयी थी। करीब साढ़े तीन साल तक उसी जर्जर पुल से होकर लोगों की आवाजाही जारी थी। उदाहाट पुल टूटने के बाद से इसी सड़क होकर दिन रात सेंकड़ो हल्की व भारी वाहनों का परिचालन हो रहा था।

प्रखंड क्षेत्र के लोगों की बढ़ी परेशानी: उदापुल के चालू होते ही धोपकट्टा पुल के ध्वस्त हो जाने से क्षेत्र के लोगों के लिए एक और बड़ी मुसीबत खड़ा कर दी है। अब एक प्रखंड के सुदूर इलाके के बड़ी आबादी को प्रखंड व जिला मुख्यालय पहुंचने के लिए करीब 25 किलोमीटर अधिक दूरी तय करना होगा। उल्लेेेेखनीय हो कि बकरा नदी पर बना स्क्रूपाइल पुल 25 अगस्त को ध्वस्त हुआ था। इसमें स्थानीय एक डिपो मालिक का ट्रैक्टर गिर था। उस घटना मे भी ट्रैक्टर चालक बाल बाल बचे थे। पुल ध्वस्त होने से हुए प्रभावित गांवों में भगवानपुर, तुरकैली, बागेश्वरी, गैरकी, गोगरा, चिरह, किशनपुर, उखवा, कुरसैल, महलगांव आदि शामिल हैं। इधर सीओ अशोक कुमार ठाकुर ने कहा कि जल्दी यातायात चालू करने की व्यवस्था की जा रही है। पुल के बगल होकर लोग पैदल जा रहे हैं। वाहनों के परिजनों पर फिलहाल रोक है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:RCC bridge in Jokihat 39 s Dhopakatta Dhar destroyed trouble increased