Parva Parivarjari is the name of Rosa - तकवा परहेजगारी का नाम है रोजा DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

तकवा परहेजगारी का नाम है रोजा

तकवा परहेजगारी का नाम है रोजा

रमजान माह का पहला रोजा मंगलवार को संपन्न हुआ। इस माह मुस्लिम समुदाय के लोग पूरे 30 दिनों के रोजा रखेंगे। इसके बाद ईद होगा। इसमें खुशियां मनाएंगे। रमजान को लेकर शहर से लेकर ग्रामीण क्षेत्र के मुसलमानों में उत्साह है। पहले दिन बच्चे, बुढ़े, जवान, औरत मर्द सभी रोजा रखे और घरों में मस्जिदों में जमकर खुदा की ईबादत की। रोजे के हालत में हर कोई गलत काम से बचने की कोशिश करते रहे। ताकि उनका रोजा खराब नहीं हो।

शहर के रहिका टोला जमा मस्जिद के ईमाम मौलाना इस्तियाक आलम ने बताया कि तकवा और परहेजगारी का नाम रोजा है। तकवा का मतलब दिल में अल्लाह का खौफ। जिसके दिल में अल्लाह का डर होगा। वह बुरे काम से बचने की कोशिश करेंगे।

उन्होंने कहा कि शरीर के हर अंग का रोजा होता है। रोजेदारों को झूट बोलने, चुगली करने, बुरी नजर से देखने, दूसरों को नुकसान पहुंचाने सहित हर बुरे कामों से बचना चाहिए। इससे रोजा मुकम्मल नहीं होगा। रमजान का पहला असरा शुरू है। पहले अशरे में इंसानों पर अल्लाह का खास रहमत बरसता है। करोबार, रोजगार, जान माल आदि में तरक्की होगी। इस अशरे में गरीबों के बीच जितना हो सके दान करना चाहिए। मौलाना ने कहा कि रोजा किसी सूरत में माफ नहीं है। सभी अकिल व बालिग मर्द और औरत पर रोजा फर्ज है। जानबुझ कर रोजा नहीं रखने वाले गुनाहगार हैं। यदि किसी मजबूरी या बीमारी के कारण रोजा नहीं रख पाते हैं तो उन्हें बाद में कजां(बाकि) अदा करना होगा। इधर बाजार में भी चहल-पहल बढ़ गयी है। लोग खाने-पीने के सामानों की खूब खरीदारी कर रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Parva Parivarjari is the name of Rosa