DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिहार  ›  अररिया  ›  मां-बाप को मिली अपनी भटकी बेटी, 15 दिनों से थी गायब
अररिया

मां-बाप को मिली अपनी भटकी बेटी, 15 दिनों से थी गायब

हिन्दुस्तान टीम,अररियाPublished By: Newswrap
Thu, 17 Jun 2021 06:11 PM
मां-बाप को मिली अपनी भटकी बेटी, 15 दिनों से थी गायब

रानीगंज। एक संवाददाता

रानीगंज पुलिस का मानवीय चेहरा सामने आया है। 15 दिनों से गायब युवती को रानीगंज पुलिस ने उनके माता पिता केे हवाले कर दिया। 15 दिनों से घर से गायब एक युवती को गुरुवार को रानीगंज पोलिस ने उनके माता पिता के हवाले कर दिया। मानसिक रूप से कमजोर युवती अपने घर से पंद्रह दिनों से गायब थी। युवती पूर्णिया जिले के सरसी थाना क्षेत्र की रहने वाली है।

क्या है पूरा मामला: बीते मंगलवार की शाम को रानीगंज थाना के दारोगा हृदयनारायण सिंह संध्या गस्ती पर थे। गस्ती के दौरान पुलिस को रानीगंज बस स्टैंड के समीप एक युवती अकेली मिली। पुलिस ने युवती से आवश्यक पूछताछ की तो वह कुछ बोल नहीं रही थी। इसके बाद दारोगा हृदयनारायण सिंह युवती को रानीगंज थाना लाया। इसके बाद पुलिस आसपास के गांव में युवती के परिजनों का पता लगाने में जुटी रही। युवती मानसिक रूप से कमजोर होने के कारण केवल रोती बिलखती थी। प्रशिक्षु डीएसपी सह रानीगंज थानाध्यक्ष प्रकाश कुमार ने बताया कि युवती के कपड़े गंदे थे। तब बाजार से नए कपड़े व चप्पल आदि लाकर दिया। दो दिनों तक रानीगंज थाना की महिला सिपाही मीरा कुमारी, संगीता कुमारी व चौकीदार डोली कुमारी की देखरेख में थी। युवती रात को कहीं भाग नहीं जाय इसके लिए तीनो महिला पुलिस कर्मी रतजगा कर देखभाल की। इस बीच डीएसपी प्रकाश कुमार के द्वारा व्हाट्सएप के कई ग्रुप में मेसेज किया गया। लेकिन कोई पता नहीं चल रहा था। इसके बाद गुरुवार की सुबह युवती काफी रोने बिलखने लगी। तब स्थानीय पत्रकार के द्वारा एक ग्रुप में युवती का फोटो भेजा गया। इसके कुछ देर के बाद ही युवती के पिता ने पत्रकार से बात की। फिर युवती के माता-पिता रानीगंज थाना पहुंचे। रानीगंज थाना में डीएसपी प्रकाश कुमार के द्वारा युवती व उनके माता पिता के आधार कार्ड व अन्य कागजात को देखा गया। पुलिस पूरी तरह संतुष्ट होने पर युवती को उनके माता पिता के हवाले कर दिया। डीएसपी प्रकाश कुमार ने बताया की हर इंसान को निसहाय व जरूरतमंदों की मदद करनी चाहिए। बेहतर पुलिसिंग के लिए इंसानियत और मानवता का होना बेहद जरूरी है। वहीं युवती के माता पिता अपनी खोई बेटी को पाकर काफी खुश थे। पिता ने बताया कि 15 दिन पहले उनकी घर से गायब हो गयी थी। बेटी की मानसिक स्थिति एक साल पहले से खराब हो गयी है। घर में हमेशा निगरानी में रखते है। 15 दिन पहले जब खेत मे काम करने गए तभी घर से कहीं चली गयी थी। तब से खोजते खोजते परेशान थे। मौके पर डीएसपी ने पत्रकार की भूमिका की सराहना की

संबंधित खबरें