DA Image
22 अक्तूबर, 2020|12:30|IST

अगली स्टोरी

बाढ़ से निजात के लिए ठोस पहल नही

default image

आसन्न विधान सभा चुनाव में मत मांगने आने वाले नेताजी के समक्ष हर वर्ष निचले इलाका में बाढ़ का दंश झेलने वाले आम मतदाता सवाल करेंगे । गत 2017 के प्रलयंकारी बाढ़ में आधे लोगो को ही राहत मिलने से पहले से ही स्थानीय लोग आक्रोशित है । शहर के आधा आबादी को हर वर्ष बाढ़ का सामना करना पड़ता है । किसी साल बाढ़ तो किसी साल मूसलाधर बारिश के कारण घर मे पानी घुस जाता है । नाले की नियमित सफाई नही होना भी इसका प्रमुख कारण है । चुनाव के समय नेताजी आते है और आश्वासन देकर चले जाते है लेकिन इसका अबतक ठोस पहल नही हो रहा है ।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:No concrete initiative to get rid of flood