DA Image
23 जनवरी, 2021|12:53|IST

अगली स्टोरी

नरपतगंज: नदियों के जल स्तर में इजाफा, निचला इलाका जलमग्न

नरपतगंज: नदियों के जल स्तर में इजाफा, निचला इलाका जलमग्न

1 / 2नेपाल में हुई भारी बारिश एवं नदियों के पानी के कारण नरपतगंज प्रखंड क्षेत्र के नदियों के जलस्तर में गुरुवार को भारी इजाफा होने के कारण ग्रामीण क्षेत्रों में बाढ़ का पानी घुस जाने से लोगों में त्राहिमाम...

नरपतगंज: नदियों के जल स्तर में इजाफा, निचला इलाका जलमग्न

2 / 2नेपाल में हुई भारी बारिश एवं नदियों के पानी के कारण नरपतगंज प्रखंड क्षेत्र के नदियों के जलस्तर में गुरुवार को भारी इजाफा होने के कारण ग्रामीण क्षेत्रों में बाढ़ का पानी घुस जाने से लोगों में त्राहिमाम...

PreviousNext

नेपाल में हुई भारी बारिश एवं नदियों के पानी के कारण नरपतगंज प्रखंड क्षेत्र के नदियों के जलस्तर में गुरुवार को भारी इजाफा होने के कारण ग्रामीण क्षेत्रों में बाढ़ का पानी घुस जाने से लोगों में त्राहिमाम की स्थिति है। प्राप्त जानकारी के अनुसार नरपतगंज के सीमावर्ती बेला, मानिकपुर, नवाबगंज, भंगही आदि पंचायत में बुधवार की देर शाम से ही लगातार पानी में इजाफा होने के कारण खेतों एवं ग्रामीण क्षेत्रों में पानी का बहाव होने से कई गांव पानी में पानी घुस गया है। मानिकपुर के अमरोली गांव में पानी के कारण रास्ता अवरुद्ध हो गया। इस कारण लोगों को चचरी पुल बनाकर आवाजाही करनी पड़ रही है। वहीं पानी का दबाव के कारण मिर्जापुर से नरपतगंज जाने वाली सड़क भी अवरुद्ध हो गई है। नरपतगंज मेन कैनाल में बने नए साइफन से पानी में इतना दबाव बना हुआ है कि खैरा पंचायत के निचले इलाके पूरी तरह जलमग्न हो गए हैं। जिस कारण पुन: खैरा पंचायत के दर्जनों परिवार ऊंचे स्थानों पर पलायन करने को मजबूर दिख रहे हैं। करीब आधा दर्जन से ज्यादा परिवार फोरलेन हाईवे पर तिरपाल टांग कर अपने मवेशी एवं बच्चों के साथ रहने लगे हैं। वहीं पानी दक्षिणी भाग में भी लगातार बढ़ता ही जा रहा है। इस कारण फरही पंचायत का कुंडीलपुर गांव में पुन: एक बार जलस्तर बढ़ने से लोगों के घरों में पानी घुस गया है। गुरुवार की शाम तक पानी पर जल स्तर में इजाफा देखा गया। इस कारण इस क्षेत्र के लोग दहशत के माहौल में जी रहे हैं और लोगों को बाढ़ की आशंका सताने लगी है। विगत एक माह से ज्यादा समय से निचले इलाकों में पानी के बहाव होने के बाद भी लोगों को अब तक राहत नहीं मिलने के बाद बाढ़ पीडि़तों में आक्रोश पनपने लगा है। बाढ़ पीड़ितों का कहना है कि सरकार उन लोगों को जल्द राहत मुहैया कराए। इस संदर्भ में सीओ निशांत कुमार ने बताया कि नेपाल के पानी के कारण जलस्तर बढ़ा है। खेत खलियान में पानी का ज्यादा बहाव हो रहा है। निकले इलाकेवाले ग्रामीण क्षेत्रों में पानी घुसने की बात सामने आ रही है। उन्होंने बताया कि जांच की जा रही है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Narpatganj Rise in water level submerged area