ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहार अररियाफारबिसगंज में सुबह-शाम जगह-जगह जाम से कहराते हैं शहरवासी

फारबिसगंज में सुबह-शाम जगह-जगह जाम से कहराते हैं शहरवासी

फारबिसगंज, एक संवाददाता प्रशासनिक उदासीनता व यातायात अधिनियम की अनदेखी के कारण फारबिसगंज शहर...

फारबिसगंज में सुबह-शाम जगह-जगह जाम से कहराते हैं शहरवासी
हिन्दुस्तान टीम,अररियाWed, 15 May 2024 12:01 AM
ऐप पर पढ़ें

फारबिसगंज, एक संवाददाता
प्रशासनिक उदासीनता व यातायात अधिनियम की अनदेखी के कारण फारबिसगंज शहर में इनदिनों आवागमन का संकट उत्पन्न हो गया है। प्रवेश-निषेध के बाद के बाबजूद बड़ेवाहनों की आवाजाही बेरोकटोक जारी है। इस कारण हमेशा सड़क जाम की स्थिति बनी रहती है। मंगलवार को भी शहर के सदर रोड,अस्पताल रोड, पोस्ट ऑफिस चौक, छुआपट्टी, दीनदयाल चौक, गोढियारी रोड़, सुभाष चौक, बस स्टैंड आदि प्रमुख स्थानों पर बड़े-बड़े चार पहिया वाहन समेत माल वाहक वाहनों की आवाजाही से सड़क जाम की समस्या उत्पन्न हो गई। सबसे ज्यादा विकराल समस्या पोस्ट ऑफिस चौक और अस्पताल रोड़ में दिखाई पड़ी। जहां सुबह 10 बजे से ही जाम की समस्या उत्पन्न हो गई। भीषण गर्मी और ऊपर से जाम होने के कारण सबसे ज्यादा परेशानी विद्यालय जाने वाले छात्रों सहित आम राहगीरों को हुई। जाम के कारण मिनटों की दूरी तय करने में उन्हें घंटों का समय लगा। वहीं सूचना पर कई स्थानों पर स्थानीय थाना पुलिस के जवानों ने सड़क जाम हटाते नज़र आये। बाबजूद सड़क जाम की समस्या से दिनभर परेशान रहे शहरवासी।

शहर में यातायात नियम का पालन नहीं:

एक तो लोगों द्वारा यातायात का नियम का पालन नहीं करना है। वहीं बाइक सवार युवकों द्वारा पहले हम तो पहले हम के चक्कर में जाम लग जाता है। वहीं शहर के आधा दर्जन स्थानों पर अस्थायी टेम्पू स्टैंड होने एवं वाहनों को इधर उधर खड़ा करने से भी जाम की समस्या उत्पन्न होती रहती है।

नो एंट्री के बावजूद बड़े वाहनों की आवाजाही:

हालांकि शहर ने सुबह 09 बजे से देर संध्या 08 बजे तक नो एंट्री लागू है। मगर बड़े वाहनों की आवाजाही 24 घंटे होती रहती है। जिसकारण जाम से जूझते रहते है शहरवासी। कारण की शहर के बीचोबीच कई नामी गिरामी ट्रांसपोर्ट कंपनियों की गोदाम व कार्यालय कार्यरत है।

दुकानदारों के अतिक्रमण से भी लगता है जाम:

शहर के प्रमुख स्थानों सहित विभिन्न चौक चोराहों पर दुकानदारों द्वारा भी अपनी-अपनी दुकानों के सामानों को दुकान के बाहर लगाने से जाम की समस्या उत्पन्न होती है।

अतिक्रमण हटाओ अभियान का भी नहीं हुआ असर:

अनुमंडल एवं नप प्रशासन द्वारा शहर में कई बार अतिक्रमण हटाओ अभियान भी चलाया गया,मगर लोगों पर इसका कोई खास असर नहीं पड़ा। शहर के सदर रोड़,छुआपट्टी,पटेल चौक,सुभाष चौक,रेलवे गुमटी आदि स्थानों पर लोगों द्वारा पुन: सड़कों का अतिक्रमण कर लिया गया। जिससे जाम की समस्या विकराल हो गई।

क्या कहते है नप के कार्यपालक पदाधिकारी:

कार्यपालक पदाधिकारी संदीप कुमार ने कहा की सड़क जाम की समस्या के समाधान हेतु जल्द ही अतिक्रमण हटाओ अभियान पुन: चलाया जायेगा। उन्होंने लोगों से अपील करते हुए कहा की वे सरकारी जमीन को अतिक्रमण से मुक्त कर दें। अन्यथा नप प्रशासन उचित कार्यवाही करेगा।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।