DA Image
24 नवंबर, 2020|12:18|IST

अगली स्टोरी

फारबिसगंज: बसों व कोचों के परिचालन से बस स्टैंड पर लौटी रौनक

फारबिसगंज: बसों व कोचों के परिचालन से बस स्टैंड पर लौटी रौनक

1 / 2बिहार सरकार के आदेश पर मंगलवार से बसों का परिचालन शुरू हो गया है। बसों व कोचों के परिचालन शुरू होने से काफी दिनों बाद फारबिसगंज के मुख्य बस पड़ाव पर रौनक लौट आई है। मगर पहले दिन यात्रियों की कमी से...

फारबिसगंज: बसों व कोचों के परिचालन से बस स्टैंड पर लौटी रौनक

2 / 2बिहार सरकार के आदेश पर मंगलवार से बसों का परिचालन शुरू हो गया है। बसों व कोचों के परिचालन शुरू होने से काफी दिनों बाद फारबिसगंज के मुख्य बस पड़ाव पर रौनक लौट आई है। मगर पहले दिन यात्रियों की कमी से...

PreviousNext

बिहार सरकार के आदेश पर मंगलवार से बसों का परिचालन शुरू हो गया है। बसों व कोचों के परिचालन शुरू होने से काफी दिनों बाद फारबिसगंज के मुख्य बस पड़ाव पर रौनक लौट आई है। मगर पहले दिन यात्रियों की कमी से बस स्टैंड पर सन्नाटा पसरा हुआ है। खास बात की पटना में सोमवार को मुख्य सचिव की अध्यक्षता में क्राइस्िंस मैनेजमेंट ग्रुप की सम्पन्न बैठक में लिये गए निर्णय के मुताबिक मंगलवार से पूरे राज्य में बसों सहित सार्वजनिक परिवहन के वाहनों का परिचालन कोरोना के तहत निर्धारित प्रावधानों के अनुसार किया गया है। बसों व अन्य वाहनों का परिचालन शुरू करने की घोषणा के बाद पहले दिन मांग फारबिसगंज के मुख्य बस स्टैंड सरयू मिश्र बस पड़ाव पर चहल—पहल प्रारंभ हो गई। पहले दिन मंगलवार को करीब आधा दर्जन बसें एवं डिलक्स कोच का ही परिचालन हो सका, मगर यात्रियों की संख्या नगण्य होने से अधिकांश बसें लगभग खाली ही रवाना हुई। बस स्टैंड पर गंदगी का अंबार लगा हुआ है। गंदगी के बीच यात्री यात्रा करने को विवश है। बस स्टैंड पर कोरोना संक्रमण के बचाव को सोशल डिस्टेंसिग का पालन साफ—साफ दिख रहा था। बसों के ड्राइवर व खलासी मास्क पहनकर यात्रियों के इंतजार में बैठे रहे। इस संबंध में सुपर हमसफ़र टूर एंड ट्रेवल्स के मालिक मो. अफसार एवं असलम ने बताया की मंगलवार की सुबह एक कोच दिल्ली के लिए रवाना हुई, जिसमें फारबिसगंज से मात्र दो— चार यात्री ही सवार हुए।

वहीं एक कोच दरभंगा जाने के लिए खड़ी है। लेकिन यात्री नहीं रहने से परेशानी हो रही है। वहीं एजेंट खालिद एवं अबू बक्त्र ने बताया की एक बस पुर्णिया गई है। जबकि बुधवार से यात्रियों की संख्या बढ़ने के बाद अन्य स्थानों के लिए बसें व कोच चलाई जायेगी। हालांकि बसों के परिचालन से यात्रियों में खुशी देखी जा रही है। बस स्टैंड के ईदगिर्द की दुकानें खुलने से चहल—पहल देखी जा रही है। हालांकि आस—पास के स्थान क्रमश: जोगबनी,रानीगंज, नरपतगंज,छातापुर,वीरपुर आदि स्थानों के लिए बस सेवा प्रारंभ होने से बाज़ारों में भी रौनक लौटने लगी है।

इधर यात्रा कर रहे मुकेश कुमार, राहिल खान आदि ने बताया की वे लॉकडाउन के कारण वे अपने रिश्तेदारों के यहां महीनों से फंसे हुए थे। वाहनों के आवागमन से उन्हें काफी राहत मिली है। वहीं बस मालिकों द्वारा पूर्व की तरह ही यात्रियों से किराया बसूला जा रहा है। किराया में कोई बढ़ोतरी नहीं की गई है।

मुख्य बस पड़ाव पर लगा गंदगी का अंबार, यात्री परेशान:

भले ही राज्य सरकार द्वारा शर्तों के हिसाब से बसों का परिचालन तो शुरू कर दिया गया है, मगर मुख्य पड़ाव में फैली गंदगी कोरोना संक्रमण को बढ़ावा दे रही है। बसों के ड्राइवर व यात्रियों ने बताया की गंदगी के चलते चारों ओर बदबू आ रही है। जगह—जगह कूड़ा कचरा का अंबार लगा हुआ है। बस एजेंटों ने नप प्रशासन से अविलंब बस स्टैंड की समुचित साफ सफाई कराने की मांग की है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Forbisganj Raunak returned to bus stand due to operation of buses and coaches