ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिहार अररियासिकटी के पड़रिया में पानी के बीचं डेरा डाल सो रहे बाढ़ पीड़ित

सिकटी के पड़रिया में पानी के बीचं डेरा डाल सो रहे बाढ़ पीड़ित

बरसात का मौसम आते हीं आम जनजीवन अस्त व्यस्त हो जाता है। खासकर निचले इलाके में रहने वाले लोगों के लिए यह किसी बड़ी आफत से कम नही है। नदियों के उफनाने के बाद गांव घर में पानी के लग जाने से चूल्हा चौका...

सिकटी के पड़रिया में पानी के बीचं डेरा डाल सो रहे बाढ़ पीड़ित
Newswrapहिन्दुस्तान टीम,अररियाWed, 22 Jul 2020 03:54 AM
ऐप पर पढ़ें

बरसात का मौसम आते हीं आम जनजीवन अस्त व्यस्त हो जाता है। खासकर निचले इलाके में रहने वाले लोगों के लिए यह किसी बड़ी आफत से कम नही है। नदियों के उफनाने के बाद गांव घर में पानी के लग जाने से चूल्हा चौका पर भी एक आफत बन जाती है वहीं कच्चे घरों में सोने में भी डर लगता है। कभी विषैले सर्प तो कभी खाट चौकी के धसने का डर। ऐसे में सिकटी प्रखंड के पड़रिया पंचायत के वार्ड 6 अंतर्गत सैदाबाद निवासी मो. कैमुद्दीन ने एक तरकीब निकालकर घर गृहस्ती व बाढ़ से निश्चित होकर कुछ पल आराम करने के लिए सुपाड़ी के पेड़ व बांस के सहारे लगभग दस फिट उपर एक बिस्तर तैयार कर चैन की नींद सो रहे हैं।

epaper