DA Image
2 दिसंबर, 2020|11:32|IST

अगली स्टोरी

पांच माह की गर्भवती महिला की मौत, परिजनों ने किया हंगामा

पांच माह की गर्भवती महिला की मौत, परिजनों ने किया हंगामा

25 वर्षीया महिला की मौत से गुस्साये उनके परिजनों ने रविवार को स्थानीय मुस्कान हॉस्पिटल में जमकर हंगामा किया। परिजनों का आरोप था कि चिकित्सक की लापरवाही के कारण मरीज की मौत हुई है। परिजनों का यह भी कहना था कि जब तक उसे इंसाफ नहीं मिलेगा वे शव को नहीं ले जाएंगे। मृतका नेहा देवी नरपतगंज के नाथपुर बरदाहा निवासी पिंटू यादव की पत्नी थी । पिंटू पंजाब के अमृतसर में मजदूरी करता है। घटना के संबंध में मृतका के भाई मंटू कुमार यादव ने बताया कि शनिवार की देर शाम करीब 8:30 बजे मरीज को नर्सिंग होम लाया गया था । मरीज पांच माह की गर्भवती थी और दर्द से बेचैन थी। मरीज को एडमिट करने के बाद कुछ दवाइयां भी दी गई। परिजनों ने आरोप लगाया कि इसके बाद उसे भगवान भरोसे छोड़ दिया गया। रविवार की सुबह तक मरीज दर्द से परेशान रही, मगर लाख कहने के बाद भी नर्सिंग होम का स्टाफ न तो चिकित्सक को बुलाया और न ही इलाज किया। इसके कारण मरीज की मौत हो गई। चिकित्सक पर लापरवाही का आरोप लगाकर परिजन अस्पताल परिसर में घंटों जमे रहे। परिजनों का कहना था कि मृतका की दो बेटी क्रमश: एक वर्ष और चार वर्ष की है जिसे अब देखने वाला कोई नहीं रहा। मौके पर समाजसेवी अरुण यादव, नीरज निराला, रोशन यादव, दुर्गानंद यादव, उद्यानंद यादव, पप्पू कुमार, मृतका की सास कुंजिया देवी, गोतनी बबिता देवी, ससुर हरि यादव, दिनेश यादव सहित बड़ी संख्या में लोग मामले के समाधान में लगे रहे । काफी बाद मामला शांत हुआ और परिजन मृतका के शव को लेकर वापस अपने घर गए। इस संबंध में डॉ शीला कुंवर ने किसी भी तरह की लापरवाही बरतने के आरोप से साफ-साफ इंकार किया। कहा कार्डिक अरेस्ट यानि अचानक से धड़कन बंद होने के कारण मरीज की मौत हुई। उन लोगों ने मरीज को बचाने का काफी प्रयास किया। डॉ. शीला ने कहा कि डॉक्टर कभी भी मरीज के साथ लापरवाही नहीं बरतता है बल्कि हर कीमत पर उसे बचाना चाहता है लेकिन कुछ बातें किसी के हाथ में नहीं होती। उन्होंने कहा कि मरीज की मौत के बाद परिजनों को आक्रोश था लेकिन सच्चाई जानने के बाद सभी शांत हो गए।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Five-month pregnant woman dies family members create ruckus