DA Image
18 जनवरी, 2021|11:53|IST

अगली स्टोरी

मवेशी ईयर टैगिंग: सूबे में टॉप टेन की सूची में कुर्साकांटा शामिल

default image

कुर्साकांटा। मवेशियों की सारी जानकारी रखने के लिए तकनिकी अधारित एक यूनिक आईडी कार्ड अभियान चलाकर मवेशी के कानों में टैग किया जा रहा है। इससे पशु पालकों को न केवल मवेशियों के टीकाकरण, नस्ल सुधार कार्यक्रम, चिकित्सीय सहायता का लाभ मिलेगा बल्कि पशु धन से किसानों की आमदनी भी बढ़ेगी। इतना ही नहीं सरकार द्वारा संचालित पशु योजना से संबंधित लाभ उसी किसान को मिलेगा जिनके पशुओं में ईयर टैगिंग किया गया है। ईयर टैगिंग का काम प्रखंड मुख्यालय स्थित पशु चिकित्सालय में हो रहा है। इस कारण इन दिनों पशुओं व पशु पालकों की भीड़ पशु चिकित्सालय में रहती है। डॉक्टर ने बताया गया कि कुर्साकांटा प्रखंड में 70 प्रतिशत मवेशियों में ईयर टैगिंग कर दिया गया है। यह प्रखंड बिहार के टॉप टेन की सूची में शामिल हो गया है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Cattle year tagging Kursakanta included in the list of top ten in the state