DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिहार  ›  अररिया  ›  बुनियादी साक्षरता परीक्षा आज, तैयारियां पूरी
अररिया

बुनियादी साक्षरता परीक्षा आज, तैयारियां पूरी

हिन्दुस्तान टीम,अररियाPublished By: Newswrap
Sun, 14 Mar 2021 03:36 AM
बुनियादी साक्षरता परीक्षा आज, तैयारियां पूरी

अररिया। निज संवाददाता

जिले में महादलित, दलित, अल्पसंख्यक एवं अति पिछड़ा वर्ग अक्षर आंचल योजना के तहत साक्षरता केंद्रों पर पठन-पाठन करने वाली नवसाक्षर महिलाओं की रविवार को होने वाली महापरीक्षा की सभी आवश्यक तैयारियां पूरी कर ली गयी है।इस महापरीक्षा में जिले की 20 हजार 260 नवसाक्षर महिलाएं को शामिल कराने का लक्ष्य निर्धारित दिया गया है। जिले के 9 प्रखंडों व तीन नगर निकाय में परीक्षा के लिए 226 केन्द्र बनाए गए हैं। परीक्षा के सफल संचालन के लिए जिला मुख्यालय स्थित जन शिक्षा कार्यालय में नियंत्रण कक्ष बनाया गया है। यहां तैनात कर्मी हर दो घंटे पर परीक्षा का अपडेट प्रखंडों से लेकर जन शिक्षा निदेशालय को भेजेंगे। परीक्षा के लिए जिला स्तर पर शिक्षा विभाग के स्थापना डीपीओ देवनंदन तांती को नोडल पदाधिकारी बनाया गया है। जबकि एक मॉनिटरिंग दल का भी गठन किया गया है। मॉनिटरिंग दल में शामिल सदस्यों को अलग-अलग प्रखंड आवंटित कर मॉनिटरिंग की जिम्मेदारी दी गई है।परीक्षा सुबह दस बजे से चार बजे तक होगी। तीन घण्टे के इस परीक्षा में निर्धारित समय के बीच सुविधानुसार महिलाएं शामिल होकर परीक्षा दे सकेंगी। परीक्षा की तैयारी को लेकर एसआरजी गुलेन्द्र कुमार ने बताया कि प्रत्येक शिक्षा सेवक परीक्षा में 20 महिलाओं को शामिल करेगें। परीक्षा केंद्र महिलाओं की सुविधा को देखते हुए नजदीकी विद्यालय में बनाये गये हैं। इस परीक्षा में 15 से 45 आयु वर्ग की वैसी महिलाएं शामिल होंगी जिन्हें शिक्षासेवको द्वारा साक्षरता केंद्रों पर नवसाक्षर बनाया गया है।

बुनियादी परीक्षा का उद्देश्य: बुनियादी साक्षरता परीक्षा का उद्देश्य नवसाक्षरों के पढ़ने-लिखने व गणित के कार्यात्मक ज्ञान का आकलन करना है। महिलाएं सुविधा अनुसार 10 से 4 बजे के बीच कभी में केंद्र में आकर तीन घण्टों की परीक्षा दे सकती हैं।परीक्षा के प्रश्न पत्र में तीन तरह के पेपर होंगे। सभी पेपर 50-50 अंकों का होगा। तीनों पेपर मिलाकर 150 अंकों की परीक्षा होगी। पहला पढ़ने का दूसरा लिखने व तीसरा गणित का होगा। परीक्षा की खास बात यह कि इस परीक्षा में कोई भी परीक्षार्थी पास या फेल नहीं होंगी। 60 प्रतिशत से अधिक अंक लाने बाले को अच्छा मानते हुए 'ए' ग्रेड 40 प्रतिशत अंक लाने वालों को संतोषजनक मानते हुए बी ग्रेड और 40 प्रतिशत से कम अंक लाने वाली परीक्षार्थी के लिए 'सी' ग्रेड दी जाएगी। ‘सी ग्रेड लाने वाली परीक्षार्थियों को सुधार की आवश्यकता मानते हुए फिर से अगले परीक्षा में शामिल होंगी।

संबंधित खबरें