DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिहार  ›  अररिया  ›  21 करोड़ से कोरोना व ब्लैक फंगस से लड़ाई लड़ेगा अररिया जिला

अररिया21 करोड़ से कोरोना व ब्लैक फंगस से लड़ाई लड़ेगा अररिया जिला

हिन्दुस्तान टीम,अररियाPublished By: Newswrap
Mon, 24 May 2021 11:01 PM
21 करोड़ से कोरोना व ब्लैक फंगस से लड़ाई लड़ेगा अररिया जिला

अररिया। वरीय संवाददाता

21 करोड़ की राशि से अररिया जिला कोरोना व ब्लैक फंगस से लड़ाई लड़ेगा। ये राशि 15 वें वित्त आयोग की अनुशंसा पर 2020-21 के लिए प्रथम किस्त के रूप में स्वीकृत हुई हंै। इन अनटाइड अनुदान की राशि से जिले के त्रिस्तरीय पंचायत संस्थाएं यथा जिला परिषद, पंचायत समिति व ग्राम पंचायत कोरोना व ब्लैक फंगस से दो-दो हाथ करेंगे। इसमें जिला परिषद के 2.16 करोड़, पंचायत समिति के 4.18 करोड़ व ग्राम पंचायत के 14.65 करोड़ शामिल हैं। बताया गया कि इन तीनो संस्थाओं के पास पहले से भी पैसे बचे हैं। जिला परिषद व पंचायत समिति 15वें वित्त आयोग के अनुदान की राशि का कोविड प्रबंधन एंव अस्पतालों में आधारभूत ढांचों की वृद्धि के लिए उपयोग करेंगे। इसके तहत जिला अस्पताल/अनुमंडल अस्पताल/प्रखंड स्तरीय अस्पतालों में अतिरिक्त बेड की व्यवस्था, आक्सीजन सिलेंडर, आक्सीजन कांसेट्रेटर की व्यवस्था कर सकती है। वहीं ग्राम पंचायत से प्राप्त पैसे से मास्क की खरीददारी कर ग्रामीण इलाकों में प्रत्येक परिवार के बीच वितरण करेंगे। सबका उद्देश्य एक ही है कोरोना से दो दो हाथ करना।

प्राप्त जानकारी के अनुसार 15वें वित्त आयोग की अनुशंसा पर जिले को कुल 20 करोड़ 99 लाख 91 हजार 357 रूपये मिले हैं। इनमें जिला परिषद के दो करोड़ 15 लाख 82 हजार 913 रूपये, पंचायत समिति के चार करोड़ 18 लाख 68 हजार 544 व 218 ग्राम पंचायत के 14 करोड़ 65 लाख 39 हजार नौ सौ शामिल हैं। इस संबंध में सरकार ने डीएम, डीडीसी, जिला परिषद के कार्यपालक पदाधिकारी व जिला पंचायती राज पदाधिकारी को आवश्यक हिदायत दी है।

प्रखंडवार पंचायत समिति को मिली राशि: जिले के विभिन्न पंचायत समिति को चार करोड़ 18 लाख 68 हजार 544 रूपये मिले हैं। जहां तक प्रखंडवार की बात है तो अररिया सदर प्रखंड को 59 लाख 45 हजार 926 रूपये, भरगामा को 37 लाख 88 हजार 407, फारबिसगंज को 60 लाख 26 हजार 738 रूपये, जोकीहाट को 50 लाख 90 हजार 731 रूपये, कुर्साकांटा को 25 लाख 64 हजार 304 रूपये, नरपतगंज को 54 लाख 76 हजार 77, पलासी को 40 लाख 40 हजार 876, रानीगंज को 61 लाख 96 हजार 559 व सिकटी प्रखंड को 27 लाख 38 हजार 926 रूपये मिले हैं।

अनुमति तो मिली पर नहीं लिया गया निर्णय: यूं तो सरकार व संबंधित विभाग ने कोविड प्रबंधन व आधारभूत स्वास्थ्य ढांचा को सदृढ़ करने के लिए 15वीं वित्त आयोग की राशि खर्च करने की अनुमति तो दे दी है लेकिन इसमें अभी भी कई पेंच फंसे हुए हैं। पहली बात ये कि डीएम स्तर से बुलाई जानी वाली बैठक अभी तक नहीं हुई है। कमोबेश यही हाल प्रखंड स्तर पर उपलब्ध राशि की भी है। बैठक नहीं होने से कोविड प्रबंधन मद में राशि खर्च करने को लेकर कोई निर्णय ही नहीं लिया गया है। हालांकि पंचायत स्तर पर मास्क की खरीददारी जारी है। इधर डीडीसी मनोज कुमार ने बताया 15 वें वित्त आयोग की राशि से सुविधाविहीन व अभावग्रस्त स्वास्थ्य केन्द्रों के दिन बहुरेंगे।

बोले अधिकारी: 15 वें वित्त आयोग की अनुशंसा पर स्वीकृत इस राशि के सदुपयोग से कोविड प्रबंधन व आधारभूत स्वास्थ्य ढांचा को सदृढ़ करने में मदद मिलेगी। बैठक के बाद आवश्यक निर्णय लेते हुए इसे धरातल पर उतारा जाएगा। इस दिशा में जिला प्रशासन पूरी तरह गंभीर है।

-अनिल कुमार ठाकुर, प्रभारी डीएम अररिया।

संबंधित खबरें