DA Image
24 नवंबर, 2020|1:02|IST

अगली स्टोरी

एएनएम की लापरवाही से प्रसूता की गयी जान

default image

सिमराहा थाना से महज कुछ ही दूरी पर स्थित प्राथमिक उप स्वास्थ्य केन्द्र में शुक्रवार की रात प्रसव कराने आयी महिला की मौत हो गयी। एएनएम की लापरवाही से महिला की मौत होने की बात सामने आयी है। प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी ने आरोपी एएनएम को विमुक्त करने के लिए अनुशंसा कर दिया है। बताया जाता है कि दो बच्चे की मां 24 वर्षीय मनीषा देवी पति नवल किशोर मंडल औराही पश्चिम वार्ड नौ को प्रसव पीड़ा की शिकायत पर शुक्रवार की शाम स्वास्थ्य उपकेन्द्र में भर्ती कराया गया, जहां ड्यूटी पर तैनात एएनएम रेणु कुमारी ने प्रसव कराने के एवज में 15सौ रूपये मांगी। बताया कि पैसे की व्यवस्था करने में करीब दो घंटे लग गया तबतक प्रसव पीड़ा से परेशान मनीषा छटपटाती रही। इसके बाद परिजनों के हो-हल्ला करने पर प्रसव कराया, तबतक मनीषा की स्थिति बिगड़ चुकी थी। गंभीर स्थिति को देखते हुए अररिया रेफर कर दिया गया मगर रास्ते में ही उनकी मौत हो गयी।

घटना की सूचना पर फारबिसगंज अनुमंडल अस्पताल से पहुंचे डा. अली अकबर अंसारी और प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डा. राजीव कुमार बसाक ने पूरे मामले की जानकारी दी। इसके बाद एएनएम को तत्काल प्रभाव से विमुक्त करने की अनुशंसा सिविल सर्जन को किया। तब मामला शांत हुआ। बताया कि आरोपी एएनएम दो साल पूर्व ही सेनिवृत हो चुकी थी। अवधि विस्तार के तहत वे कार्य कर रही थी।

इधर जिला परिषद सदस्य दिलीप पटेल ने बताया कि बगैर डॉक्टर का प्रत्येक दिन आधा दर्जन से अधिक महिलाओं का प्रसव कराया जाता है। प्रसव के बाद प्रसुताओं को सुविधा के नाम पर कुछ नहीं मिलता है। उन्होंने मामले की जांच कर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग जिला प्रशासन से की है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:ANM 39 s negligence killed child