DA Image
28 सितम्बर, 2020|9:00|IST

अगली स्टोरी

पिछले चुनाव के मुकाबले 40 प्रतिशत बने अधिक बूथ

पिछले चुनाव के मुकाबले 40 प्रतिशत बने अधिक बूथ

जिले में कोरोना संक्रमण के प्रसार पर काबू पाने के उपायों के साथ-साथ आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर भी सभी आवश्यक तैयारियां चल रही हैं। निर्वाचन आयोग के निर्देश के आलोक में बूथों की संख्या में 40 प्रतिशत का इजाफा किया जा रहा है। प्रतिदिन कोरोना जांच की संख्या बढ़ाने की योजना भी बना ली गई है। सात निश्चय की योजनाओं में भी अच्छी प्रगति है। ऐसी जानकारी डीएम प्रशांत कुमार सीएच ने सोमवार को मीडिया कर्मियों के साथ साझा किया। कोरोना संक्रमण की वर्तमान स्थिति की जानकारी देते हुए डीएम ने बताया कि जिले में 69 हजार 224 सैम्पलों की जांच हो चुकी है। अब तक 2837 पॉजिटिव केस मिले हैं, लेकिन केवल 608 एक्टिव केस हैं। सदर अस्पताल व एएनएम स्कूल फारबिसगंज में एक एक डेडिकेटेड कोविड हेल्थ केयर सेंटर संचालित हैं। ऐसे दो अतिरिक्त सेंटर के संचालन की तैयारी है। जिले में फिलहाल 215 कन्टेनमेंट जोन हैं। ऐसे क्षेत्र के भीतर रहने वाले शत प्रतिशत लोगों के संक्रमण जांच का प्रयास किया जा रहा है। अगले सात दिनों में जांच की संख्या बढ़ाने का प्लान तैयार हो चुका है। चुनावी तैयारियों की बाबत कहा गया कि भारत निर्वाचन आयोग का निर्देश है कि एक बूथ में मतदाताओं की संख्या एक हजार से अधिक न हो। इसी के मद्देनजर मतदान केंद्रों की संख्या में 40 प्रतिशत का इजाफा किया गया है। कुल 2732 बूथों का चयन हुआ है। सेक्टर चिन्हित कर दंडाधिकारियों की टैगिंग की गई है। प्रशिक्षण भी हो रहा है। सात निश्चय के तहत योजनाओं की प्रगति की जानकारी देते हुए उन्होंने बताया कि जिले के 2992 वार्डों में से 1112 वार्डों में शुद्ध पेय जल योजना का काम पूरा हो चुका है। दो लाख 10 हजार 200 घरों में जलापूर्ति का कनेक्शन दिया गया है। स्वंय सहायता भत्ता योजना के तहत चार हजार 61 युवाओं को भत्ता दिया गया है। 17 हजार 650 युवाओं को प्रशिक्षण और 3182 छात्रों को बिहार स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड योजना के तहत लाभ दिया गया है। डीएम के कार्यालय कक्ष में आयोजित प्रेस कांफ्रेंस के दौरान एडीपीआरओ दिलीप सरकार भी उपस्थित थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:40 percent more booths than last election