DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिहार  ›  आरा  ›  कोरोना पर वेबिनार में वीकेएसयू के वीसी भी हुए शामिल
आरा

कोरोना पर वेबिनार में वीकेएसयू के वीसी भी हुए शामिल

हिन्दुस्तान टीम,आराPublished By: Newswrap
Sat, 12 Jun 2021 10:20 PM
कोरोना पर वेबिनार में वीकेएसयू के वीसी भी हुए शामिल

संवाददाता

आरा। युवा चेतना के तत्वावधान में कोरोना और भारतीय पुरातन संस्कृति विषयक वेबिनार का आयोजन हुआ। इसमें वीर कुंवर सिंह विश्वविद्यालय के प्रभारी कुलपति भी शामिल हुए। उद्घाटन करते हुए स्वामी अभिषेक ब्रह्मचारी ने कहा कि महामारी कोरोना से मिलकर लड़ना होगा। मुख्य अतिथि इलाहाबाद हाई कोर्ट के वरिष्ठ न्यायमूर्ति केजे ठाकर ने कहा कि कोरोना से देश का बहुत नुक़सान हुआ है। चिकित्सकों ने इस कठिन दौर में लोगों का सहयोग किया है। वीकेएसयू के प्रभारी कुलपति प्रो राजेंद्र प्रसाद ने कहा कि भारतीय संस्कृति वासुधेवम कुटुम्बकम की है, हमें उसको अपनाना होगा। विशेष अतिथि सांसद एमवी श्रेयमस कुमार ने कहा कि सबको चिकित्सकों के परामर्श का पालन कर कोरोना से लड़ना होगा। मुख्य वक्ता मौलाना आजाद उर्दू विश्वविद्यालय के पूर्व कुलाधिपति जफर सरेशवाला ने कहा कि युवा चेतना सराहनीय कार्य कर रही है। उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग के सदस्य डा आरएन त्रिपाठी ने कहा कि गाय, गंगा,गायत्री और तुलसी को आधार मानकर हमें कोरोना से लड़ना होगा। आयुर्वेद को और सशक्त करना होगा। पंजाब महिला आयोग की अध्यक्ष मनीषा गुलाटी ने कहा कि कोरोना से भारत का बहुत नुक़सान हुआ है। हम सबको एकजुट होकर महामारी को परास्त करना होगा। एम्स भटिंडा के निदेशक डॉ डीके सिंह ने कहा कि टीकाकरण में तेज़ी लाकर हम कोविड को परास्त करेंगे। एम्स रायपुर के निदेशक डॉ नीतिन नागरकर ने कहा कि जैसे कोरोना के लक्षण दिखें, चिकित्सक से सम्पर्क करें। औरबिंडो विश्वविद्यालय इंदौर के अध्यक्ष डॉ विनोद भंडारी ने कहा कि चिकित्सकों के कार्य पर समाज को प्रश्न नहीं उठाना चाहिए। द सीएमआरआई कोलकाता के डॉ पीके नेमानी ने कहा की कोरोना के तीसरी लहर के लिए अभी से सतर्क रहने की आवश्यकता है। डॉ राकेश उपाध्याय ने कहा कि हमें अपने परम्पराओं को पुनर्जीवित कर कोरोना से लड़ना होगा। उद्यमी मनोज गोयल ने कहा कि हम लगातार सेवा कर रहे हैं ताकि महामारी में कोई परेशान न रहे।

युवा चेतना जनता की रसोई से गरीबों का कर रही सहयोग : रोहित

वेबिनार की अध्यक्षता करते हुए युवा चेतना के राष्ट्रीय संयोजक रोहित कुमार सिंह ने कहा कि हम लगातार कोरोना के ख़िलाफ़ संघर्ष कर रहे हैं। युवा चेतना जनता की रसोई के माध्यम से गरीब वर्ग का सहयोग कर रही है। वहीं बौद्धिक चर्चा के माध्यम से ग्रामीण लोगों को कोरोना से लड़ने हेतु रास्ता बताने का प्रयास कर रही है।

संबंधित खबरें