DA Image
24 अक्तूबर, 2020|11:51|IST

अगली स्टोरी

जदयू नेताओं को गोली मारने में तीन लाइनर गिरफ्तार

default image

शहर के जगदेव नगर में रविवार को युवा जदयू के राष्ट्रीय सचिव व उसके दोस्त को गोली मारने के मामले में पुलिस को अहम सफलता मिली है। इस मामले में पुलिस ने लाइनर का काम करने वाले तीन बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया है। इनके पास से दो देसी कट्टा, पांच गोलियां, तीन मोबाइल और दो अपाची बाइक भी बरामद की गयी है। तीनों ने लाइनर का काम करने की बात स्वीकार कर ली है। शहर के पश्चिमी ओवरब्रिज के पास से तीनों को पकड़ा गया। गिरफ्तार बदमाशों में जगदीशपुर थाना क्षेत्र के परसिया गांव निवासी विजय शंकर चौधरी का पुत्र शुभम चौधरी, नवादा थाना क्षेत्र के जगदेव नगर निवासी मनोज तिवारी का पुत्र निलेश कुमार उर्फ मंगरु और उसी मोहल्ले का अजय राय का पुत्र विपुल कुमार शामिल हैं। एसपी हर किशोर राय ने इसकी पुष्टि की है। एसपी के अनुसार ने तीनों ने बताया कि सुमन के कहने पर घटना में लाइनर का काम किया है। घटना में शामिल सभी अपराधियों के नाम भी बताये हैं। बरामद दोनों बाइक फायरिंग व हत्या की घटना में इस्तेमाल की गयी थी। इनकी निशानदेही पर घटना में शामिल नामजद आरोपितों की धरपकड़ के लिए छापेमारी की जा रही है। छापेमारी में नवादा थानाध्यक्ष संजीव कुमार, दारोगा दीपनारायण सिंह और डीआईयू की टीम शामिल थी।

गोली मारने वालों की तलाश में दूसरे जिलों में भी छापेमारी

जदयू नेताओं को गोली मारने वाले चारों अपराधियों की गिरफ्तारी को लेकर पुलिस ताबड़तोड़ छापेमारी कर रही है। इसके लिए पुलिस भोजपुर सहित कई अन्य जिलों में दबिश दे रही है। हालांकि अब तक चारों का सुराग नहीं मिल सका है। बता दें कि रविवार की शाम शहर के जगदेवनगर में जदयू नेता प्रिस सिंह बजरंगी और जमीन कारोबारी उपेंद्र सिंह उर्फ मिथुन को गोली मार दी गयी थी। ताबड़तोड़ की गयी फायरिंग में मिथुन की मौत हो गयी थी, जबकि प्रिंस सिंह बजरंगी गंभीर रूप से जख्मी हो गये हैं। इसे लेकर मिथुन के पिता सीताराम सिंह के बयान पर नामजद प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है। उसमें दीपक, सुमन व बिट्टू व रिशु को आरोपित किया गया है। इसके बाद से ही पुलिस सभी की तलाश में जुटी है।

आर्म्स एक्ट में तीनों भेजे गये जेल, फायरिंग व हत्या में रिमांड पर लेगी पुलिस

जदयू नेताओं को गोली मारने में गिरफ्तार तीनों अपराधियों को पूछताछ के बाद जेल भेज दिया गया। तीनों को फिलहाल आर्म्स एक्ट के मामले में जेल भेजा गया है। फायरिंग व मर्डर के मामले में तीनों को रिमांड पर लिया जायेगा, ताकि घटना की पूरी सच्चाई सामने आ सके। पुलिस के अनुसार इसके लिए जल्द ही कोर्ट में अर्जी दी जायेगी। बता दें कि हथियार बरामदगी के मामले में तीनों के खिलाफ आर्म्स एक्ट के तहत प्राथमिकी दर्ज की गयी है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Three liners arrested for shooting JDU leaders