DA Image
हिंदी न्यूज़ › बिहार › आरा › हथियार के बल पर सीएसपी संचालक से सरेराह लूटपाट, तीन गिरफ्तार
आरा

हथियार के बल पर सीएसपी संचालक से सरेराह लूटपाट, तीन गिरफ्तार

हिन्दुस्तान टीम,आराPublished By: Newswrap
Wed, 28 Jul 2021 09:20 PM
हथियार के बल पर सीएसपी संचालक से सरेराह लूटपाट, तीन  गिरफ्तार

-धनगाई थाना क्षेत्र के केशवा मोड़ के समीप बुधवार की सुबह की वारदात

-जगदीशपुर के ककीला के पास से ग्रामीणों की मदद से पुलिस ने तीनों को पकड़ा

-ग्रामीणों को चकमा देकर भाग निकले दो अपराधी, धरपकड़ में जुटी पुलिस

-एसपी बोले: लूटे गये पैसों की बरामदगी के लिए की जा रही छापेमारी

आरा/ जगदीशपुर। हिन्दुस्तान संवाददाता

भोजपुर के धनगाईं इलाके में बुधवार की सुबह अपराधियों ने हथियार का भय दिखाकर एक सीएसपी संचालक से लूटपाट की। इस दौरान संचालक से 80 हजार रुपये, लैपटॉप और सोने की चेन छीन लिये गये। विरोध करने पर संचालक के साथ गाली-गलौज और मारपीट भी की गयी। अपराधियों की संख्या छह बतायी जा रही है, जो दो बाइक पर थे। लूट की यह घटना धनगाईं थाना क्षेत्र के केशवां मोड़ के समीप सुबह करीब साढ़े नौ बजे हुई। हालांकि संचालक की सूचना पर ग्रामीणों की पीछा कर तीन बदमाशों को पकड़ लिया। इस दौरान तीनों की पिटाई भी कर दी गयी। जबकि अपाची बाइक सवार तीन बदमाश ग्रामीणों को चकमा देकर भाग निकले। तबतक पुलिस जगदीशपुर और धनगाईं थाना की पुलिस भी पहुंच गयी और तीनों को गिरफ्तार कर लिया गया। इन बदमाशों के पास से एक देसी पिस्टल, दो गोली, एक बाइक और संचालक से छीनी सोने की चेन बरामद कर ली गयी।

लेकिन पैसे और लैपटॉप की बरामदगी नहीं हो सकी है। पकड़े गये अपराधियों में जगदीशपुर थाना क्षेत्र के विमवा मठिया निवासी पप्पू शर्मा,अगिआंव बाजार थाना क्षेत्र के पुरैनी निवासीआकाश कुमार सिंह और चरपोखरी थाना क्षेत्र के अमोरजा गांव निवासी ओम प्रकाश सिंह शामिल हैं। लूट की यह घटना पीरो थाना क्षेत्र के बसावन टोला निवासी शारदानंद सिंह के पुत्र नागेंद्र कुमार सिंह के साथ हुई है। इस मामले में नागेंद्र कुमार सिंह के बयान पर छह लुटेरों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है। पुलिस पकड़े गये तीनों अपराधियों से पूछताछ कर रही है। एसपी विनय तिवारी ने बताया कि लूट में शामिल तीन बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया गया है। तीन अन्य की भी पहचान कर ली गयी है। उन तीनों की निशानदेही पर घटना में शामिल अन्य बदमाशों की गिरफ्तारी और लूटे गये पैसों की बरामदगी के लिये छापेमारी की जा रही है।

दोस्त के पैसे खाते में डालने के लिए 80 हजार रुपये लेकर केंद्र जा रहे थे संचालक

पीरो थाने क्षेत्र के बसावन टोला निवासी नागेंद्र कुमार सिंह का धनगाईं थाना क्षेत्र के दलीपपुर में दक्षिण बिहार ग्रामीण का सीएसपी है। वह हर रोज दलीपुर स्थित बैंक से रुपये निकाल सीएसपी ग्राहकों का लेनदेन करते हैं। उनके एक दोस्त ने मंगलवार को पीएनबी के खाते में डालने के लिये 80 हजार रुपये दिया था। संचालक बुधवार को वह पैसे और लैपटॉप सहित अन्य सामान लेकर बाइक से अपने सीएसपी जा रहे थे। इस बीच केशवा मोड़ और कृषि फार्मा के बीच राइस मिल के पास पहले से मौजूद अपराधियों ने धक्का मार उनकी बाइक गिरा दी। उसके बाद हथियार हथियार दिखाकर पैसे और लैपटॉप वाला बैग छीनकर भागने लगे। इस क्रम में सोने की चेन भी छीन लिया। इस दौरान मारपीट भी की गयी। घटना के बाद सभी जदीशपुर की ओर भाग निकले

लूट की सूचना पर दोस्त और ग्रामीणों ने पीछा कर तीनों बदमाशों को धर दबोचा

लूट की घटना के बाद सीएसपी संचालक ने अपने दोस्त ककीला गांव निवासी संजय सिंह को सूचना दी। साथ ही जगदीशपुर और धनगाईं थाने को भी लूट की खबर कर दी। इस दौरान वह खुद अपराधियों का पीछा करने लगे। वहीं सूचना मिलते ही संजय सिंह शोर मचाते हुये लुटेरों के पीछे दौड़ पड़े। वहीं जगदीशपुर थानाध्यक्ष जगनिवास सिंह और धनगाई थानाध्यक्ष लक्ष्मी पटेल भी बदमाशों का पीछा करने में जुट गये। इधर, ग्रामीणों और पुलिस को पीछा करते देख कर अपराधी रास्ता बदल ककीला की ओर भागने लगे। तबतक ग्रामीण सामने आ गये। इस क्रम में अपाची सवार तीन बदमाश तो भाग निकले। लेकिन एक अन्य पर सवार तीन अपराधी असंतुलित होकर गिर पड़े। इसके बाद ग्रामीणों ने तीनों को दबोच लिया और पिटाई शुरू कर दी। इस बीच पुलिस पहुंच गयी और तीनों को गिरफ्तार कर लिया गया।

संबंधित खबरें