Lack of counter to fill the form ruckus in colleges - फॉर्म भरने को कांउटर की कमी, कॉलेजों में हंगामा DA Image
12 दिसंबर, 2019|3:52|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

फॉर्म भरने को कांउटर की कमी, कॉलेजों में हंगामा

default image

कुंवर सिंह विवि के विभिन्न कॉलेजों में काउंटर की कमी का खामियाजा छात्र-छात्राओं को भुगतना पड़ रहा है। स्नातक पार्ट वन में एडमिशन और स्नातक पार्ट टू परीक्षा का फॉर्म एक साथ भरे जाने से यह समस्या आ रही है। किसी भी महाविद्यालय में पर्याप्त संख्या में काउन्टर नहीं हैं। इसे ले शुक्रवार को विभिन्न कॉलेजों में पूरे दिन हो-हंगामा होता रहा। कुछ विद्यार्थी तो खिड़की पर चढ़े नजर आये। इस कारण अफरा-तफरी का माहौल कायम हो गया। एसबी कॉलेज में देर शाम तक विद्यार्थियों की लंबी कतारें काउन्टर पर देखने को मिलीं। भीड़ के अनुरूप काउन्टर नहीं रहने पर छात्र-छात्राओं में नाराजगी देखी गयी। कई बार पहले हम तो पहले हम को ले छात्र एक दूसरे से नोंकझोंक भी करते दिखे। इधर, महाराजा कॉलेज में भी छात्र फॉर्म भरने के लिए विद्यार्थी मारामारी करते दिखे। इस घटना की जानकारी मिलने पर विवि छात्र संघ अध्यक्ष अमित कुमार सिंह ने छात्रों को शांतिपूर्ण फॉर्म भरने का आग्रह किया। इसके बाद परीक्षा नियंत्रक से बात भी की। अन्य छात्र संगठनों ने भी कॉलेज प्रबंधन से काउंटर बढ़ाने की मांग की है। बता दें कि पिछले दिनों भी एसबी कॉलेज और महिला कॉलेज में देर शाम तक छात्र-छात्राओं की लंबी कतारें देखने को मिली थीं। इधर, भीड़ कम करने के लिए महिला कॉलेज प्रशासन ने गुरुवार को अवकाश होने के बावजूद फॉर्म भरने का काम किया था।

स्नातक पार्ट टू का फॉर्म भरने की तिथि 18 तक बढ़ी

वीर कुंवर सिंह विवि के परीक्षा विभाग ने स्नातक पार्ट टू सत्र 2017-20 के परीक्षा फॉर्म भरने की तिथि बढ़ा दी है। अब बिना विलंब शुल्क के विद्यार्थी 18 सितंबर तक परीक्षा फॉर्म भर सकते हैं। कॉलेज 20 तक फॉर्म विवि में जमा करेंगे। परीक्षा नियंत्रक प्रो लतिका वर्मा ने बताया कि छात्र हित में यह कदम उठाया गया है। वहीं सौ रुपये विलंब शुल्क के साथ 19 से 21 सितंबर तक फॉर्म कॉलेजों में स्वीकार होगा, जबकि 23 तक विवि में हर हाल में फॉर्म जमा करना है। मालूम हो कि पहले बिना विलंब शुल्क के 14 सितंबर तिथि निर्धारित थी। बिना विलंब शुल्क की पूर्व निर्धारित तिथि में दो-तीन दिन अवकाश रहने के कारण विद्यार्थी फॉर्म भरने से वंचित रह गये, जबकि कई छात्र-छात्राओं का रिजल्ट अब भी त्रुटिपूर्ण है। इस कारण वे फॉर्म भरने से वंचित हो रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Lack of counter to fill the form ruckus in colleges