DA Image
10 अप्रैल, 2020|1:29|IST

अगली स्टोरी

स्कूल जाने से बचने को छात्रों ने गढ़ी अपहरण की झूठी कहानी

default image

शहर के एक निजी स्कूल की पांचवीं क्लास के दो छात्रों की झूठी कहानी ने पुलिस की नींद हराम कर दी। स्कूल जाने से बचने के लिए दोनों छात्रों ने अपहरण की झूठी कहानी गढ़ दी। स्कूल जाने के लिए घर से बस पकड़ने निकले दोनों बच्चे रेलवे स्टेशन पहुंच गये। इसके बाद श्रमजीवी एक्सप्रेस में सवार हो गये। एस्कॉट पार्टी के जवानों ने स्कूल ड्रेस में देख बच्चों को पकड़ पूछताछ की। तब दोनों छात्रों ने अगवा कर लाये जाने की बात कही। इससे रेल पुलिस सकते में आ गयी। एक साथ दो बच्चों के अपहरण की घटना से शहर की पुलिस के भी हाथ-पांव फूलने लगे। हालांकि बाद में सीसीटीवी फुटेज से बच्चों के झूठ की पोल खुल गयी। इससे अपहरण के मामले का पटाक्षेप हो गया। हुआ यह कि नाला मोड़ निवासी जीतेंद्र कुमार का पुत्र हर्षित कुमार और मनोज साह का पुत्र नित्यम साह शहर के एक स्कूल के छात्र हैं। मंगलवार की सुबह दोनों घर से स्कूल के लिए निकले थे। इस बीच दोनों किसी तरह रेलवे स्टेशन पहुंच गये और ट्रेन में सवार हो गये। ट्रेन में सवार जवानों ने जब बच्चों से पूछताछ की तो दोनों ने एक स्वर से अपहरण किये जाने की बात कह डाली। इसके बाद दोनों को आरपीएफ के हवाले कर दिया गया। फिर आरपीएफ व जीआरपी ने बच्चों से पूछताछ शुरू की। टाउन थाने की पुलिस व बच्चों के परिजनों को भी सूचना दी गयी। सूचना मिलने पर परिजन भी भागे-भागे स्टेशन पहुंच गये। इस दौरान आरपीएफ इंस्पेक्टर शंभूनाथ राम ने स्टेशन परिसर के सीसीटीवी की फुटेज खंगाली, तो दोनों बच्चे काफी देर तक प्लेटफॉर्म पर घूमते देखे गये। तब अपहरण की कहानी झूठी साबित हो गयी।

बच्चे बोले-बेहोश कर दोनों को ले जाया गया

पांचवीं में पढ़ने वाले बच्चों ने अपहरण की ऐसी कहानी बनायी, जिसे सुन पुलिस भी हैरान रह गयी। बच्चों के अनुसार दोनों करीब नौ बजे स्कूल बस पर सवार होने के लिए रोड पर आ रहे थे। दोनों आपस में होमवर्क के बारे में बात कर रहे थे। तभी अज्ञात लोगों ने पीछे से दोनों की आंख बंद कर दी। इसके बाद कपड़े से बेहोश कर दोनों को ले जाया गया। होश आने पर दोनों ट्रेन में थे। इसके बाद ट्रेन में घूम रहे पुलिस जवानों को सारी बात बतायी। बहरहाल, बच्चों के अपहरण की घटना का पटाक्षेप हो जाने से पुलिस व परिजनों ने राहत की सांस ली है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:False story of kidnapped by students to avoid going to school