DA Image
20 जनवरी, 2021|3:54|IST

अगली स्टोरी

भोजपुर : न्यूनतम स्तर पर पहुंचा कोराना संक्रमण, दो मरीज ही मिले

default image

भोजपुर में कोरोना का संक्रमण न्यूनतम स्तर पर पहुंच गया है। शुक्रवार को स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी बुलेटिन में दो नये संक्रमित मरीज ही मिलने की पुष्टि की गयी है। वहीं गुरुवार को एक नया संक्रमित मिला था। सदर हॉस्पिटल सहित जिले के 16 स्थानों पर कैंप लगाकर रैपिड एंटीजन किट से 2927 लोगों की जांच की गई। इनमें दो पॉजिटिव व 2925 निगेटिव मिले। कोरोना पॉजिटिव मरीजों को आइसोलेट किया गया है। ट्रूनेट से जांच के लिए 200 और आरटीपीसीआर से जांच के लिए 263 लोगों का स्वाब सैंपल लिया गया। मालूम हो कि जिले में अब तक 4605 लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं। इसमें से 4410 लोग कोरोना से जंग जीते है। अब तक 36 लोगों की मौत कोरोना से हुई है। जिले में 159 एक्टिव केस है। इधर, शाहपुर प्रखंड के शाहपुर व ईश्वरपुरा में 205 लोगों की कोरोना जांच की गई। इसमें सबकी रिपोर्ट निगेटिव पायी गयी। इसकी पुष्टि रेफरल अस्पताल के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ केपी महतो ने की है।

कोरोना को मात दे चुके लोग करें गाइडलाइन का पालन

भोजपुर में कोरोना के नये संक्रमितों की संख्या में गिरावट दर्ज़ की गई है। सर्दियों के मौसम में कोरोना संक्रमण से बचाव को ले और कोरोना संक्रमण से उबर चुके लोगों को भी खास एहतियात बरतने की आवश्यकता है। उन्हें सरकार की ओर से जारी किये गये गाइडलाइन का पालन करना चाहिए। कोरोना से रिकवर हुए लोगों के लिए स्वास्थ्य मंत्रालय ने पोस्ट कोविड-19 मैनेजमेंट प्रोटोकॉल जारी किया है। इसमें कोरोना से रिकवर हुए लोगों के लिए कुछ हिदायतें दी गई हैं और जिनका पालन करना जरूरी है। प्रोटोकॉल में कोरोना से रिकवर हुए लोगों को इम्युनिटी बढ़ाने के लिए कुछ खास नुस्खों और अपनी जीवनशैली (लाइफस्टाइल) में बदलाव की सलाह दी गई है। ताकि लोग इस बीमारी को मात देने के बाद स्वस्थ रह सकें।

जीवनशैली में बदलाव कर सुरक्षा है संभव

चिकित्सकों के अनुसार सभी कोविड-19 रोगी जो कोरोना को मात दे चुके हैं, उन्हें अपनी खास देखभाल की जरूरत है। ऐसे रोगियों को स्वस्थ रहने के लिए सरकार की ओर से जारी किए गए इन प्रोटोकॉल का मानना जरुरी है। संक्रमण से उबर चुके व्यक्ति भी दोबारा संक्रमित हो सकते हैं। अपने जीवनशैली में बदलाव कर और कोविड अनुरूप आचरण अपनाकर संक्रमण से सुरक्षा संभव है।

इम्युनिटी बढ़ाने के लिए संतुलित व पौष्टिक आहार का करें इस्तेमाल

आयुष मंत्रालय की सलाह के अनुसार इम्युनिटी बढ़ाने वाली आयुर्वेदिक दवाओं का सेवन करना है। अपनी क्षमता के अनुसार योगासन, प्राणायाम और ध्यान करना है। संतुलित और पौष्टिक आहार का इस्तेमाल करने की सलाह दी गयी है। साथ ही आसानी से पचने वाला नरम व ताजा खाना खाने के लिए कहा गया है।

कोविड को मात दे चुके रोगी धूम्रपान व शराब से परहेज करें

स्वास्थ्य विशेषज्ञ डॉ केएन सिन्हा बताते हैं कि कोविड को मात दे चुके रोगी धूम्रपान और शराब से परहेज करें। रोजाना सुबह और शाम जरूर टहलें। अस्पताल से छुट्टी मिलने के सात दिन बाद टेलीफोन के जरिए डॉक्टर को अपना हाल जरूर बताएं। घर में ही सेल्फ चेक-अप करें। अपना ब्लड प्रेशर, शुगर और बुखार को चेक करते रहें। गले में कफ या खराश होने से बचने के लिए लगातार गर्म पानी से गरारे करें। अगर कोई होम आइसोलेशन में रह रहा है और स्थिति पहले से खराब है तो तुरंत निकटतम अस्पताल से संपर्क करें और इस बीमारी से उबरने के बाद अपने दोस्तों, संबंधियों और अपने समाज के लोगों को भी जागरूक करें।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Bhojpur Korana infection reached the lowest level only two patients were found