DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

फरना-बखोरापुर मुख्य पथ पर चढ़ा पानी, आवागमन ठप

एक सप्ताह पूर्व तक सुखाड़ झेल रहे भोजपुर में पिछले कुछ दिनों से हो रही मूसलाधार बारिश से कई इलाकों में पानी भर जाने से बाढ़ जैसे हालात होने लगे हैं। फरना-बखोरापुर मुख्य पथ पर पानी चढ़ गया है। इससे आवागमन पूरी तरह बाधित हो गया है। मुख्य सड़क पर पर आवागमन बाधित होने से लोगों को भारी परेशानी झेलनी पड़ रही है।

सिअरूआ के बहुआरा गांव में सम्पर्क पथ टूटा

जगदीशपुर की सिअरूआ पंचायत के बहुआरा गांव में पुल के पास सम्पर्क पथ टूट गया है। इससे आवागमन बाधित हो गया है। हरिगांव पंचायत के झाझा टोले में कच्ची सड़क आधा किमी तक बह गयी है। ग्रामीणों ने प्रशासन से मदद की गुहार लगायी है। वहीं उगना गांव के ग्रामीण बढ़ते पानी के दबाव से भयभीत हैं। सड़क टूटने की कगार पर है। कभी भी पानी गांव में प्रवेश कर सकता है। कटेया नहर बलिगांव गांव के समीप टूट गयी है। सिअरूआ के असुधर में पानी से तबाही है। पूर्वी आयर के मोरसिया तक पानी फैला है। कई गांव पानी से घिर गये हैं और लोगों का घरों से निकलना दूभर हो गया है। पानी जमा होने से कई मिट्टीनुमा घर ध्वस्त हो चुके हैं। दूर-दूर तक केवल पानी ही पानी दिखाई दे रहा है।

सहार समेत कई जगह धान के सैकड़ों बीघे खेत डूबे

सहार प्रखंड के कई गांवों का बधार बारिश से जलमग्न हो गया है। पेरहाप गांव के बधार से पानी की निकासी नहीं होने से रोपा गया धान का सैकड़ों बीघा खेत डूब गया है। किसानों ने कहा कि जल्द ही पानी निकासी का इंतजाम नहीं किया गया तो फसल बर्बाद हो जायेगी। बड़हरा के तटीय इलाके के मैदानी हिस्सों में भी पानी फैल गया है। इस कारण किसान मक्का और मसूरिया की खेती नहीं करने से वंचित हो गये हैं। खेत परती रह गये। वहीं कई जगह रोपा गया धान दह गया है। खेत की क्यारियां भी टूट गयी हैं। इसे ले किसानों में मायूसी साफ तौर पर दिख रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Bakhorappur main road, water shut down