Hindi Newsऑटो न्यूज़Ola Electric begins construction at its battery cell gigafactory

OLA ने शुरू की दुनिया की सबसे बड़ी सेल गीगाफैक्ट्री, प्रोडक्शन भी शुरू; 10 हजार लोगों को मिलेगा रोजगार

ओला इलेक्ट्रिक (Ola Electric) देश की नंबर-1 इलेक्ट्रिक टू-व्हीलर कंपनी है। ऐसे में अब उसने भारत में इलेक्ट्रिक व्हीकल (EV) को बढ़ावा देने की दिशा में एक बड़ा कदम उठाया है।

Narendra Jijhontiya लाइव हिन्दुस्तान, नई दिल्लीSat, 27 May 2023 04:16 PM
हमें फॉलो करें

ओला इलेक्ट्रिक (Ola Electric) देश की नंबर-1 इलेक्ट्रिक टू-व्हीलर कंपनी है। ऐसे में अब उसने भारत में इलेक्ट्रिक व्हीकल (EV) को बढ़ावा देने की दिशा में एक बड़ा कदम उठाया है। कंपनी ने हाल ही में अपने सेल गीगाफैक्ट्री का मैन्युफैक्चर शुरू कर दिया है। फैक्ट्री का मैन्युफैक्चरिंग शुरू होने को लेकर कंपनी के CEO भाविश अग्रवाल ने सोशल मीडिया पर पोस्ट शेयर करते इस बात की जानकारी दी है। ओला के इस प्रयास से इलेक्ट्रिक मोबिलिटी को बढ़ावा मिलेगा।

10 हजार लोगों को मिलेगा रोजगार
भाविश अग्रवाल ने सोशल मीडिया पर लिखा, "यह भारत का सबसे बड़ा और दुनिया के सबसे बड़े सेल फैक्ट्री में से एक होगा।" इस साल के आखिर तक 5 गीगावाट-घंटे (GWh) प्रति वर्ष की शुरुआती कैपेसिटी के साथ सेल फैक्ट्री चालू होने की उम्मीद है। यह उच्च गुणवत्ता वाले बैटरी सेल मैन्युफैक्चरिंग में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी। ये इलेक्ट्रिक व्हीकल को पावर देने के लिए जरूरी है। फैक्ट्री का निर्माण तमिलनाडु में किया जा रहा है। इससे यहां के 10,000 लोगों को रोजगार मिलेगा।

महंगा होने वाला है ओला ई-स्कूटर
मिनिस्ट्री ऑफ हैवी इंडस्ट्री ने एलान किया है कि सब्सिडी की रकम 15,000 रुपए प्रति किलोवाट से घटाकर 10,000 रुपए प्रति किलोवाट कर दिया गया है। सब्सिडी में की गई कटौती 1 जून से लागू होगी। इस संबंध में मंत्रालय ने एक नोटिफिकेशन में बताया कि घटी हुई सब्सिडी सभी रजिस्ट्रेशन इलेक्ट्रिक टू व्हीलर पर 1 जून से लागू होगी। बता दें कि ऐसे वाहनों के लिए प्रोत्साहन सीमा को पहले ही 40 फीसदी से घटाकर 15 फीसदी कर दिया गया है। ऐसे में ओला स्कूटर की कीमतें 35 हजार तक बढ़ जाएंगी।

ऐप पर पढ़ें