फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ ऑटोमंहगे पेट्रोल जाएंगे भूल, गडकरी इस नई टेक्नोलॉजी से चलने वाली कार में बैठकर पहुंचे संसद

मंहगे पेट्रोल जाएंगे भूल, गडकरी इस नई टेक्नोलॉजी से चलने वाली कार में बैठकर पहुंचे संसद

केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी आज नई टेक्नोलॉजी वाली ग्रीन हाइड्रोजन से चलने वाली कार से संसद पहुंचे। गडकरी ने जनवरी में अपने एक बयान में कहा था कि वह दिल्ली की सड़कों पर कार में दिखाई देंगे ताकि

मंहगे पेट्रोल जाएंगे भूल, गडकरी इस नई टेक्नोलॉजी से चलने वाली कार में बैठकर पहुंचे संसद
Tejeshwarलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीWed, 30 Mar 2022 01:21 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/

केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी आज नई टेक्नोलॉजी वाली ग्रीन हाइड्रोजन से चलने वाली कार से संसद पहुंचे। गडकरी ने जनवरी में अपने एक बयान में कहा था कि वह दिल्ली की सड़कों पर कार में दिखाई देंगे ताकि लोगों को हाइड्रोजन फ्यूल का उपयोग करने के लिए प्रोत्साहित किया जा सके।

गडकरी जिस नई टेक्नोलॉजी वाली गाड़ी में बैठकर संसद पहुंचे उसका नाम टोयोटा मिराई है। केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि भारत सरकार ने ₹3000 करोड़ का मिशन शुरू किया है और जल्द ही हम हाइड्रोजन का निर्यात करने वाला देश बन जाएंगे। देश में जहां भी कोयले का इस्तेमाल होगा, वहां ग्रीन हाइड्रोजन का इस्तेमाल किया जाएगा।

उन्होंने आगे कहा कि आत्मनिर्भर बनने के लिए, हमने ग्रीन हाइड्रोजन को पेश किया है। अब देश में ग्रीन हाइड्रोजन का प्रोडेक्शन शुरू होगा, आयात पर अंकुश लगेगा और रोजगार के नए अवसर पैदा होंगे। टोयोटा ने हाल ही में मिराई को लॉन्च किया है, जिससे यह भारत की पहली हाइड्रोजन फ्यूल सेल EV (FCEV) बन गई है। 

Mirai को लेकर Toyota का दावा है कि यह कार फुल टैंक के साथ 650 km की रेंज निकाल सकती है। बताया गया है कि यह कार पूरी तरह से पर्यावरण अनुकूल है और इसमें पानी के अलावा कोई और उत्सर्जन नहीं होता। इलेक्ट्रिक गाड़ियों के साथ सबसे बड़ी समस्या लंबा चार्जिंग समय है, लेकिन Mirai इस समस्या को खत्म कर देती है, क्योंकि इसमें हाइड्रोजन रिफिल में ज्यादा समय नहीं लगता है।

epaper