फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ ऑटोलॉन्च होते ही इस इलेक्ट्रिक कार को ताबड़तोड़ बुकिंग, चलती है 461KM, रफ्तार में भी जबर्दस्त

लॉन्च होते ही इस इलेक्ट्रिक कार को ताबड़तोड़ बुकिंग, चलती है 461KM, रफ्तार में भी जबर्दस्त

इस इलेक्ट्रिक कार को 1 महीने से भी कम समय में 1500 प्री-बुकिंग मिल गई है। एक इलेक्ट्रिक कार होने के चलते यह आंकड़े काफी अच्छे कहे जा सकते हैं। बता दें कि फरवरी में इसकी सिर्फ 38 यूनिट्स बिकी थीं

लॉन्च होते ही इस इलेक्ट्रिक कार को ताबड़तोड़ बुकिंग, चलती है 461KM, रफ्तार में भी जबर्दस्त
Vishal Kumarलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीFri, 01 Apr 2022 07:27 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

एमजी मोटर इंडिया ने इसी महीने अपनी नई MG ZS EV इलेक्ट्रिक कार को लॉन्च किया है। अब कंपनी का दावा है कि इस कार को ग्राहकों की शानदार प्रतिक्रिया मिल रही है। एमजी की मानें तो इस इलेक्ट्रिक कार को 1 महीने से भी कम समय में 1500 प्री-बुकिंग मिल गई है। 

एक इलेक्ट्रिक कार होने के चलते यह आंकड़े काफी अच्छे कहे जा सकते हैं। बता दें कि फरवरी 2022 में पुरानी ZS EV की सिर्फ 38 यूनिट्स बिक पाईं थीं। रोचक बात यह भी है कि दो वेरिएंट में आने वाली नई ZS EV का फिलहाल एक ही वेरिएंट (Exclusive) बुकिंग के लिए उपलब्ध है, जिसकी कीमत 25.88 लाख रुपये एक्स-शोरूम है। 

यह भी पढ़ें: Maruti की नई हैचबैक लॉन्च, कीमत 5.39 लाख रुपये से शुरू, 34KM तक का माइलेज

बड़ी बैटरी और बेहतर रेंज 
MG ZS EV में पहले से बड़ी 50.3kWH बैटरी दी गई है। पहले इसमें 44.7kWh बैटरी यूनिट मिलती थी। नई बैटरी 143bhp की पावर और 353Nm का टार्क डिलीवर करती है। यह केवल 8.5 सेकंड में 0-100 किमी प्रति घंटे की रफ्तार हासिल करने का दावा करता है। नई ZS इलेक्ट्रिक में सिंगल चार्ज में 461km की रेंज देने का दावा किया गया है। पुराना मॉडल फुल चार्ज पर 419km देने का दावा करती थी। 

यह भी पढ़ें: नए अवतार वाली Maruti Brezza फिर आई नजर, देखिए कितना बदल गया SUV का लुक

पहली तिमाही में 69% की बढ़ोतरी
एमजी मोटर इंडिया की बिक्री में 2021 की चौथी तिमाही के मुकाबले 2022 की पहली तिमाही में 69% का उछाल आया है। कार निर्माता कंपनी ने मार्च 2022 में कुल 4721 वाहनों की बिक्री की और इस दौरान उसे कोविड-19 के नए वैरिएंट और वैश्विक स्तर पर सेमीकंडक्टर चिप की किल्लत जैसी समस्याओं की वजह से आपूर्ति के मोर्चे पर चुनौतियों का भी सामना करना पड़ा। पिछले साल मार्च में कंपनी ने 5,528 यूनिट्स की खुदरा बिक्री की थी।

epaper