फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ ऑटोमहिंद्रा की इन 2 SUV में आई खराबी, रिकॉल की गई इन 19,000 यूनिट में आपकी कार तो नहीं? चेक करें पूरी डिटेल

महिंद्रा की इन 2 SUV में आई खराबी, रिकॉल की गई इन 19,000 यूनिट में आपकी कार तो नहीं? चेक करें पूरी डिटेल

महिंद्रा की दो एसयूवी में खराबी आ गई है। महिंद्रा ने इन दोनों SUVs की 19,000 यूनिट को रिकॉल किया है। इन दोनों एसयूवी की मार्केट में जबरदस्त डिमांड है। चेक करिए कहीं इसमें आपकी कार तो नहीं?

महिंद्रा की इन 2 SUV में आई खराबी, रिकॉल की गई इन 19,000 यूनिट में आपकी कार तो नहीं? चेक करें पूरी डिटेल
Sarveshwar Pathakलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीTue, 29 Nov 2022 02:08 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

दिग्गज कार निर्माता कंपनी महिंद्रा ने XUV700 की 12,566 यूनिट और Scorpio N की 6,618 यूनिट को रिकॉल किया है। यह रिकॉल मैनुअल ट्रांसमिशन मॉडल के लिए किया गया है। भारतीय ऑटो निर्माता महिंद्रा एंड महिंद्रा ने हाल के दिनों में कई रिकॉल किए हैं। अकेले 2022 में महिंद्रा ने 4 रिकॉल जारी किए हैं। पहला रिकॉल जुलाई में XUV700 के एडब्ल्यूडी वैरिएंट के लिए महत्वपूर्ण सर्विस एक्शन को लेकर जारी किया गया था। इसके बाद सितंबर में टर्बोचार्जर की खराबी के लिए XUV700 और थार को वापस बुलाया गया था। सिर्फ तीन दिन पहले XUV700 को इसके सस्पेंशन में गुड-गुड नॉइज के लिए रिकॉल किया गया था।

इसे भी पढ़ें- IIT मद्रास के छात्रों ने किया कमाल, बनाई गजब की ये इलेक्ट्रिक रेसिंग कार

XUV700 की 12,566 यूनिट्स और Scorpio N की 6,618 यूनिट्स

चौथे रिकॉल में XUV700 की 12,566 यूनिट्स और Scorpio N की 6,618 यूनिट्स को रिकॉल किया गया है। रिकॉल का कारण मैनुअल ट्रांसमिशन मॉडल के बेल हाउसिंग के अंदर रबर बेल है, जबकि थार को 2022 में केवल एक बार वापस बुलाया गया था। लॉन्च के बाद से स्कॉर्पियो एन का यह पहला रिकॉल है। 

किस कारण किया गया रिकॉल?

स्कॉर्पियो एन और एक्सयूवी700 दोनों के मैनुअल ट्रांसमिशन में इस्तेमाल किया गया रबर इस रिकॉल का कारण है। Scorpio N और XUV700 दोनों इंजन और ट्रांसमिशन में एक ही सेट लगता है, इसलिए इन दोनों में यह खराबी आने की संभावना है।

किन मॉडलों में है दिक्कत?

महिंद्रा के अनुसार एक्सयूवी700 और स्कॉर्पियो एन की उन यूनिट्स में दिक्कत है, जिन्हें 1 जुलाई 2022 और 11 नवंबर 2022 की अवधि में मैन्युफैक्चर किया गया था। इसका ऑपरेटिंग डायमेंशनल क्लीयरेंस अफेक्टेड हो सकता है।

महिंद्रा इस समस्या को फ्री में ठीक करने की पेशकश कर रहा है। इस समस्या को सुधारने के लिए अफेक्टेड कारों के मालिकों से उनके डीलरशिप द्वारा व्यक्तिगत रूप से संपर्क किया जाएगा।

बार-बार किया जा रहा रिकॉल

कोविड-19 के बाद से दुनिया भर में सप्लाई-चैन की गंभीर समस्या रही है। इससे ऑटो उद्योग भी प्रभावित हुआ है। बढ़ती लोकप्रियता के कारण निर्माताओं को उत्पादन बढ़ाना पड़ता है और उसमें कई विक्रेताओं से ऑटो पार्ट्स मंगवाए जाते हैं। इससे क्वॉलिटी कंट्रोल में चूक होती है। एक बार सप्लाई चैन का समाधान हो जाने के बाद ही रिकॉल की समस्या को पूरी तरह से खत्म किया जा सकता है। 

पालतू कुत्ते के साथ कस्टमाइज्ड बाइक पर दिल्ली से लद्दाख पहुंचा शख्स, बनाया रिकॉर्ड! देखें वीडियो