DA Image
हिंदी न्यूज़ › ऑटो › भारत में जल्द लॉन्च होगी Jeep की नई सस्ती SUV गाड़ियां! जानिए क्या है कंपनी की योजना
ऑटो

भारत में जल्द लॉन्च होगी Jeep की नई सस्ती SUV गाड़ियां! जानिए क्या है कंपनी की योजना

लाइव हिंदुस्तान,नई दिल्लीPublished By: Ashwani Tiwari
Tue, 05 Jan 2021 04:48 PM
भारत में जल्द लॉन्च होगी Jeep की नई सस्ती SUV गाड़ियां! जानिए क्या है कंपनी की योजना

फिएट क्राइसलर ऑटोमोबाइल (FCA) भारतीय बाजार में अपने ब्रांड Jeep को लेकर काफी सजग नजर आ रही है। कंपनी जल्द ही भारतीय बाजार में Jeep ब्रांड के अर्न्तगत कुछ नए मॉडलों को पेश करने जा रही है। इन मॉडलों की सबसे खास बात ये होगी कि इनकी कीमत काफी कम होगी। हाल ही में कंपनी ने भारत में 250 मिलियन डॉलर के निवेश करने की घोषणा की है। 


बताया जा रहा है कि कंपनी यह निवेश भारत में लॉन्च होने वाले अपने 4 नए मॉडलों के लिए कर रही है। इसमें इस साल बाजार में आने वाली Jeep Compass, नई Wrangler और Grand Cherokee एसयूवी शामिल है। इन सभी गाड़यों को कंपनी अगले साल के अंत तक बाजार में लांच कर सकती है। हालांकि Compass के नए मॉडल को जल्द ही बाजार में उतारा जाएगा। 


यह भी पढें: नए साल पर Ford का तोहफ़ा: EcoSport के घटाए दाम, 39 हजार रुपये तक कम हुई कीमत 

गाड़ियों का होगा लोकल प्रोडक्शन: कंपनी ने बताया है कि, अपने आने वाले मॉडलों Wrangler और Grand Cherokee का प्रोडक्शन अब भारत में ही करेगी। इन गाड़ियों का निर्माण रंजनगांव स्थित प्लांट में ही किया जाएगा। इससे यह माना जा रहा है कि लोकल प्रोडक्शन के चलते इन गाड़ियों की कीमत और भी कम हो जाएंगी। इसके अलावां कंपनी अपनी सबसे किफायती एसयूवी Renegade को भी यहां के बाजार में पेश कर सकती है। 


Jeep Compass के फेसलिफ्ट मॉडल को आगामी 7 जनवरी को प्रदर्शित किया जाएगा, हालांकि इसका प्रोडक्शन पहले से ही शुरू किया जा चुका है। इसके अलावां कंपनी अपनी मिड साइज 7 सीटर एसयूवी, जिसका कोडनेम H6 है उसे साल 2022 तक यहां के बाजार में पेश करेगी। यह एसयूवी कंपास और ग्रांड चेरोकी के बीच का मॉडल होगी। 


इस बारे में FCA India के प्रबंध निदेशक डा. पार्थ दत्ता ने मीडिया को बताया कि, “250 मिलियन डॉलर का हमारा नया निवेश हमें अलग अलग सेग्मेँट में प्रतिस्पर्धा करने में मदद करेगा। जल्द ही हमारी नई एसयूवी रंजनगांव के प्लांट से बाहर आने वाली है। उन्होनें कहा कि, हम अपने वाहनों में स्थानीय निर्मित पार्ट्स के प्रयोग पर जोर देंगे, जिससे वाहनों की लागत मूल्य कम से कम हो सकेगी। हम अपने ग्राहकों की संतुष्टी पर फोकस कर रहे हैं।”  

संबंधित खबरें