Hindi NewsAuto NewsEntry-level EVs to close price gap with ICE variants in 18 months says Tata Motors

18 महीने के अंदर आएगी देश की सबसे सस्ती इलेक्ट्रिक कार, 250Km होगी रेंज; बैटरी की कीमतें कम होने का मिलेगा फायदा

देश और दुनिया के कई ओटोमेकर सस्ती इलेक्ट्रिक कारों पर काम कर रहे हैं। कंपनियां इन कारों की शुरुआती कीमतें ICE कारों की तुलना में लाना चाहती हैं। मोटे तौर पर इनकी कीमतें 5 लाख के आसपास शुरू होंगी।

18 महीने के अंदर आएगी देश की सबसे सस्ती इलेक्ट्रिक कार, 250Km होगी रेंज; बैटरी की कीमतें कम होने का मिलेगा फायदा
Narendra Jijhontiya लाइव हिन्दुस्तान, नई दिल्लीThu, 30 Nov 2023 09:35 AM
हमें फॉलो करें

देश और दुनिया के कई ओटोमेकर सस्ती इलेक्ट्रिक कारों पर काम कर रहे हैं। कंपनियां इन कारों की शुरुआती कीमतें ICE कारों की तुलना में लाना चाहती हैं। यानी मोटे तौर पर इनकी कीमतें 5 लाख के आसपास शुरू होंगी। अब इसे लेकर टाटा पैसेंजर इलेक्ट्रिक मोबिलिटी के एमडी शैलेश चंद्रा ने कहा है बैटरी की लागत लगभग 130 डॉलर (लगभग 10,800 रुपए) प्रति किलोवाट घंटे के रिकॉर्ड निचले स्तर तक गिर गई हैं। ऐसे में इलेक्ट्रिक बाजार अगले 18 महीने में 250Km रियल रेंज वाली इलेक्ट्रिक कार की संभावना तलाश रहा है। जिसकी कीमत ICE कार के समान होगी।

ऑटोकार की रिपोर्ट के मुताबिक, इंडिया EV कॉन्क्लेव में चंद्रा ने कहा कि जहां इलेक्ट्रिक व्हीकल को शुरुआती अपनाने वाले पारंपरिक ICE व्हीकल पर 20-30% प्रीमियम का पेमेंट करने को तैयार हैं। वहीं खरीदार इलेक्ट्रिक व्हीकल को ICE व्हीकल की समान कीमत पर चाहते हैं। निकट भविष्य में एक से डेढ़ साल के अंदर आप बड़े पैमाने पर बाजार में 200 से 250Km की वास्तविक रेंज वाली कार देखने जा रहे हैं।

ICE और EV की कीमत में 30% का अंतर
बैटरी की कीमतें कम होने के कई कारण हैं। यह मुख्य रूप से LFP बैटरी पैक हैं। टाटा मोटर्स LFP का उपयोग करता है, जबकि महिंद्रा NMC का उपयोग करता है। ये कच्चे माल की लागत में गिरावट के कारण अधिक किफायती होते जा रहे हैं। इसका कारण लिथियम उत्पादन क्षमता में वृद्धि के साथ ही दुनिया भर में ईवी की धीमी वृद्धि दर को दिखाता है। महत्वपूर्ण आयात सामग्री और उच्च बैटरी लागत के कारण पारंपरिक ICE-संचालित कार की तुलना में इलेक्ट्रिक वाहन की लागत अभी भी लगभग 25-35% अधिक है। उदाहरण के लिए, नेक्सन और नेक्सन EV के टॉप-स्पेक वेरिएंट की एक्स-शोरूम कीमत क्रमशः 15.50 लाख रुपए और 19.94 लाख रुपए हैं। यानी इनमें लगभग 30% का अंतर है।

टाटा सभी ICE मॉडल को कर रही इलेक्ट्रिक
टाटा के पोर्टफोलियो में सबसे ज्यादा इलेक्ट्रिक मॉडल शामिल हैं। इसमें नेक्सन, टियागो, टिगोर के इलेक्ट्रिक मॉडल शामिल हैं। जबकि कंपनी पंच और अल्ट्रोज के इलेक्ट्रिक मॉडल की टेस्टिंग कर रही है। टियागो EV की ग्राहकों को बढ़िया रिस्पॉन्स मिला है। ये कंपनी की सबसे सस्ती कार है। वहीं, इसकी वास्तविक रेंज 200Km से ज्यादा है। यही वजह है कि कंपनी अब सस्ती इलेक्ट्रिक कार पर ज्यादा फोकस कर रही है। वो अपने ग्राहकों को सभी ICE मॉडल में इलेक्ट्रिक का ऑप्शन भी देना चाहती है। भारत में इलेक्ट्रिक कार बाजार इस फाइनेंशियल ईयर में पहली बार 1 लाख का आंकड़ा पार करने की उम्मीद है।

ऐप पर पढ़ें