फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ ऑटोआपकी जिंदगी बचाने वाले एक एयरबैग की सिर्फ इतने रुपए है कीमत, लेकिन कंपनियां हजारों रुपए ऐंठ रहीं

आपकी जिंदगी बचाने वाले एक एयरबैग की सिर्फ इतने रुपए है कीमत, लेकिन कंपनियां हजारों रुपए ऐंठ रहीं

जून में मारुति के चेयरमैन आर सी भार्गव ने कहा था कि सरकार की 6 एयरबैग पॉलिसी का असर उसकी छोटी कारों पर पड़ सकता है। 6 एयरबैग लगाए गए तो उनकी कीमत 60 हजार रुपए तक बढ़ जाएगी।

आपकी जिंदगी बचाने वाले एक एयरबैग की सिर्फ इतने रुपए है कीमत, लेकिन कंपनियां हजारों रुपए ऐंठ रहीं
Narendra Jijhontiyaलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीSat, 06 Aug 2022 12:09 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

जून में मारुति के चेयरमैन आर सी भार्गव ने कहा था कि सरकार की 6 एयरबैग पॉलिसी का असर उसकी छोटी कारों पर पड़ सकता है। हर कार में 6 एयरबैग के नियम के चलते मारुति की सस्ती हैचबैक आम लोगों के बजट के बाहर चली जाएगी। जिसके चलते वो छोटी बैचबैक जैसे ऑल्टो, एस-प्रेसो, वैगनआर, स्विफ्ट को बंद करने में संकोच नहीं करेगी। उन्होंने कहा था कि छोटी कार के बेस वैरिएंट में 6 एयरबैग लगाए गए तो उनकी कीमत 60 हजार रुपए तक बढ़ जाएगी। हालांकि, अब केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने लोकसभा में एक एयरबैग पर आने वाले खर्च के बारे में बताया है।

गडकरी ने बताया एक एयरबैग का खर्च
>>
लोकसभा के प्रश्नकाल के दौरान बीजेपी सांसद निशिकांत दुबे ने कारों में एयरबैग्स का मुद्दा उठाया था। उन्होंने केंद्रीय मंत्री से पूछा था कि सरकार ने यह फैसला किया है कि हर कार में कम से कम 6 एयरबैग जरूरी किए जाएंगे। इसके ड्राफ्ट नोटिफिकेशन की तारीख इस साल अक्टूबर की है, लेकिन अभी तक वह जारी नहीं हुआ है। इसका नोटिफिकेशन कब तक आएगा, ताकि कंपनियों के लिए 6 एयरबैग की पॉलिसी लागू की जा सके।

ये भी पढ़ें- लोगों को मारुति की वैगनआर, स्विफ्ट या बलेनो नहीं, बल्कि ये कार ज्यादा पसंद आ रही; आंख बंद करके खरीद रहे

>> इस सवाल पर नितिन गडकरी ने कहा कि एक एयरबैग की कीमत सिर्फ 800 रुपए है। 6 एयरबैग के प्रस्ताव पर सरकार विचार कर रही है। इसे जल्द लागू भी किया जाएगा। कार कंपनियों के लिए यह कब तक अनिवार्य होगा, इस पर उन्होंने कोई समयसीमा नहीं बताई। गडकरी ने बताया कि देश में हर साल 5 लाख तक सड़क हादसे होते हैं, जिनमें डेढ़ लाख तक जानें चली जाती हैं। अभी तक कार में ड्राइवर और फ्रंट सीट पैसेंजर के लिए एयरबैग जरूरी है। पीछे बैठने वाले लोगों के लिए एयरबैग का नियम नहीं है। हालांकि, सरकार ने फैसला किया है कि वो सभी पैसेंजर के लिए एयरबैग को लागू करेगी।

ये भी पढ़ें- टू-व्हीलर पर 3 सवारी बैठने पर कट जाता है इतने हजार का चालान, तो क्या हुआ जब 7 लोग बैठे? जानिए नियम

800 का एयरबैग तो खर्च 60 हजार का क्यों?
अब सवाल ये उठता है कि जब एक एयरबैग की कीमत 800 रुपए है, तब कंपनी इस पर 15,000 रुपए क्यों ले रही हैं। आर सी भार्गव के मुताबिक, 6 एयरबैग लगाए गए तो उनकी कीमत 60 हजार रुपए तक बढ़ जाएगी। कार में 2 एयरबैग पहले से होते हैं, यानी 4 एयरबैग लगाने का खर्च 15 हजार प्रति एयरबैग के हिसाब से 60 हजार होगा। गडकरी के मुताबिक एक एयरबैग का खर्च 800 रुपए है। यानी 4 एयरबैक का खर्च 3200 रुपए होता है। अब मान लिया जाए एयरबैग के साथ कुछ सेंसर, सपोर्टिंग एक्सेसरीज भी लगाई जाएगी। तब एक एयरबैग का खर्च 400 से 500 रुपए के करीब बढ़ सकता है। यानी एक एयरबैग का खर्च 1300 रुपए हो सकता है। यानी 4 एयरबैग का खर्च 5200 रुपए। तो फिर कंपनी 60,000 रुपए क्यों बता रही हैं।

epaper