Hindi Newsऑटो न्यूज़No need for driving tests at RTO from 1 June New driving license rules

ना दलाली, ना कमीशन, ना रिश्वत... अब बिना RTO जाए बनेगा ड्राइविंग लाइसेंस, 1 जून से बदल रहा नियम; जानें डिटेल

  • सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय (MoRTH) 1 जून 2024 से कई नियमों में बदलाव करने जा रहा है। इसमें एक नियम ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने से जुड़ा है।

Narendra Jijhontiya लाइव हिन्दुस्तानThu, 23 May 2024 04:27 PM
हमें फॉलो करें

सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय (MoRTH) 1 जून 2024 से कई नियमों में बदलाव करने जा रहा है। इसमें एक नियम ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने से जुड़ा है। दरअसल, 1 जून से अब जो लोग नया ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए अप्लाई करना चाहते हैं उन्हें क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय (RTO) के चक्कर लगाने की जरूरत नहीं होगी। बल्कि आप ड्राइविंग टेस्ट प्राइवेट ट्रेनिंग सेंटर या ड्राइविंग स्कूल जाकर दे सकेंगे। यहां से ही आपको ड्राइविंग एलिजिबिलिटी सर्टिफिकेट मिलेगा।

अभी देश के कई शहरों में ड्राइविंग स्कूल में टेस्ट देकर ड्राइविंग लाइसेंस दिया जाता है। ऐसे में अब इस नियम को देशभर में लागू कर दिया जाएगा। नए नियम में नए ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए RTO में टेस्ट देना जरूरी नहीं होगा। बल्कि प्राइवेट ड्राइविंग ट्रेनिंग सेंटर जाकर टेस्ट दे पाएंगे। इन सेंटर्स को ड्राइविंग टेस्ट लेने और ड्राइविंग सर्टिफिकेट जारी करने की परमिशन दी जाएगी। ऐसे में RTO में चल रही कालाबाजारी या फिर दलालों को मिलने वाला कमीशन भी खत्म हो जाएगा।

1 जून से बदल रहे नियम... नाबालिग ने चलाई गाड़ी, तो ₹25000 का चालान, जेल भी होगी

नया लाइसेंस बनावाने से जुड़ी आवेदन प्रक्रिया

आप ड्राइविंग लाइसेंस के लिए https://parivahan.gov.in/ के माध्यम से ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। आप मैनुअल प्रक्रिया से आवेदन करने के लिए RTO जा सकते हैं। आवेदन शुल्क लाइसेंस के प्रकार पर निर्भर करता है। आपको डॉक्युमेंट जमा करने और लाइसेंस के लिए अपने ड्राइविंग कौशल का प्रदर्शन करने के लिए RTO का दौरा करना होगा।

लाइसेंस की फीस और चार्जेज

लर्नर लाइसेंस (फॉर्म 3): 150 रुपए
लर्नर्स लाइसेंस टेस्ट (या रिपीट टेस्ट): 50 रुपए
ड्राइविंग टेस्ट (या दोबारा टेस्ट): 300 रुपए
ड्राइविंग लाइसेंस जारी करना: 200 रुपए
इंटरनेशनल ड्राइविंग परमिट: 1000 रुपए
लाइसेंस में एक अन्य व्हीकल कैटेगरी जोड़ना: 500 रुपए
ड्राइविंग लाइसेंस रिनूवल: 200 रुपए
लेट रिनूवल (ग्रेस पीरियड के बाद): 1300 रुपए
ड्राइविंग इंस्ट्रक्शन स्कूल के लिए डुप्लीकेट लाइसेंस: 5000 रुपए
लाइसेंसिंग प्राधिकारी के आदेशों के विरुद्ध अपील: 500 रुपए
ड्राइविंग लाइसेंस में पता या अन्य विवरण बदलना: 200 रुपए

बजाज ला रही एक और नई पल्सर, ये कम कीमत में प्रीमियम मोटसाइकिल होगी

नाबालिग पर 25000 रुपए का जुर्माना
तेज गति से गाड़ी चलाने पर 1,000 रुपए से 2,000 रुपए के बीच जुर्माना होगा। नाबालिग को गाड़ी चलाते हुए पकड़े जाने पर 25,000 रुपए का जुर्माना लगेगा। इतना ही नहीं, 25,000 रुपए तक के चालान के साथ नाबालिग के पिता को जेल भी हो सकती है। सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय के अनुसार, वाहन मालिक का पंजीकरण कार्ड रद्द कर दिया जाएगा और नाबालिग 25 वर्ष की आयु तक लाइसेंस के लिए अयोग्य होंगे।

ऐप पर पढ़ें