Hindi Newsऑटो न्यूज़How to charge your electric vehicles properly during summer know some tips and tricks

तपती गर्मी में इलेक्ट्रिक वाहन मालिक भूलकर भी न करें ये गलती, वरना पछताएंगे; इन 4 बातों का रखें खास ध्यान

अगर आपके पास कोई इलेक्ट्रिक व्हीकल है, तो आपको सावधान रहना चाहिए। जी हां, क्योंकि इस तपती गर्मी में अपने इलेक्ट्रिक व्हीकल को खराब तरीके से चार्ज करना आपको भारी पड़ सकता है। आइए इसे जरा ध्यान से समझते हैं।

Sarveshwar Pathak लाइव हिंदुस्तानMon, 17 June 2024 11:09 PM
हमें फॉलो करें

अपने डेली लाइफ में हम सभी बैटरी से चलने वाले कई डिवाइस जैसे लैपटॉप, मोबाइल फोन आदि का यूज करते हैं। इन डिवाइस को चार्ज करना बहुत आसान है। उन्हें बस प्लग इन करना होना होता है और 100 प्रतिशत तक चार्ज करना होता है। लेकिन, इलेक्ट्रिक वाहनों के साथ ऐसा नहीं किया जा सकता है। इलेक्ट्रिक वाहनों को ठीक से चार्ज करने के लिए कुछ बुनियादी तकनीकों का पालन करना आवश्यक है, वरना खतरा हो सकता है।

भारत के विभिन्न हिस्से में इस समय भीषण गर्मी पड़ रही है, जिससे इलेक्ट्रिक वाहनों की बैटरी को सही तरीके से चार्ज करने की टेक्नोलॉजी पर विशेष ध्यान देने की आवश्यकता है, क्योंकि ईवी बैटरियां थर्मल एनर्जी या टेम्परेचर के प्रति अत्यधिक संवेदनशील होती हैं। किसी भी ईवी की लाइफ इस बात पर ज्यादा निर्भर करती है कि उसकी बैटरी कैसे चार्ज की जा रही है, तो आइए इसे कुछ जरूरी प्वाइंट्स में समझते हैं।

ओवरचार्जिंग से बचें

इलेक्ट्रिक वाहन को ओवरचार्ज करना ईवी ग्राहकों को भारी पड़ सकता है। जिस तरह लैपटॉप और अन्य स्मार्ट डिवाइस को 100 प्रतिशत चार्ज करने के नहीं छोड़ना चाहिए, उसी तरह इलेक्ट्रिक वाहनों के साथ भी यही अभ्यास अपनाया जाना चाहिए। ऑनबोर्ड बैटरी मैनेजमेंट सिस्टम बैटरी का 100 प्रतिशत तक पहुंचने पर ऑटोमैटिक रूप से चार्जिंग प्रक्रिया को बंद कर देती है, लंबे समय तक प्लग इन रहने से बैटरी लाइफ पर बुरा प्रभाव पड़ता है।

सीधी धूप में चार्ज करने से बचें

ईवी बैटरी पैक तापीय ऊर्जा के प्रति संवेदनशील होते हैं। लिथियम-आयन बैटरियां, जो आधुनिक इलेक्ट्रिक वाहनों को पावर प्रदान करती हैं, तापमान परिवर्तन के प्रति संवेदनशील हैं। उच्च तापमान के लंबे समय तक संपर्क में रहने से बैटरी खराब होने की स्पीड तेज हो सकती है, जिससे समय के साथ क्षमता और रेंज कम हो सकती है। यही कारण है कि इलेक्ट्रिक वाहन बैटरी पैक को सीधी धूप में चार्ज करने से बचने की सलाह दी जाती है, खासकर ऐसे हॉट गर्मी के दिनों में।

राइड के तुरंत बाद न चार्ज करें

इलेक्ट्रिक वाहन चलाने या चलाने के तुरंत बाद चार्ज करने से बचना चाहिए। राइड के दौरान लिथियम-आयन बैटरी पैक गर्म रहती है और जब आप राइड ख़त्म करते ही चार्ज करने लगते हैं तो बैटरी ख़राब होने का खतरा बढ़ जाता है। बैटरी पैक थर्मल मैनेजमेंट सिस्टम के साथ आते हैं, लेकिन राइड करने के तुरंत बाद इसे चार्ज करने से बचना चाहिए। ऐसा करने से ईवी के थर्मल मैनेजमेंट सिस्टम को अधिक कुशलता से कार्य करने में मदद मिलती है और बैटरी डाउनग्रेड कम हो जाती है। ईवी की बैटरी को लगभग 30 मिनट तक थोड़ा ठंडा होने दें और फिर इसे चार्ज करना शुरू करें।

बार-बार चार्ज करने से बचें

यह एक सामान्य गलती है, जो हम लैपटॉप और अन्य स्मार्ट डिवाइस के साथ करते हैं। बार-बार चार्ज करना व्यावहारिक समाधान से अधिक मनोवैज्ञानिक है। हम अपने डिवाइस को हमेशा 100 प्रतिशत बैटरी चार्ज स्तर पर देखना पसंद करते हैं। यही मामला इलेक्ट्रिक वाहनों के साथ भी बना हुआ है। लेकिन, बार-बार चार्ज करना किसी भी बैटरी के हेल्थ के लिए अच्छा नहीं है, जिसमें इलेक्ट्रिक वाहन बैटरी भी शामिल है। ऐसा करने से इलेक्ट्रिक वाहनों में बैटरी लाइफ काफी कम हो जाता है, जैसा कि अन्य स्मार्ट डिवाइस में होता है।

₹5 लाख से कम की इस कार पर आया ₹40000 का डिस्काउंट, अब खरीदने की मचेगी लूट!

मिलती-जुलती गाड़ियां

लेटेस्ट   Hindi News,   बॉलीवुड न्यूज,  बिजनेस न्यूज,  टेक ,  ऑटो,  करियर ,और   राशिफल, पढ़ने के लिए Live Hindustan App डाउनलोड करें।

ऐप पर पढ़ें