ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News AstrologyWhen is 2nd Pradosh Vrat in February Note down the date auspicious time worship method remedy and mantra

Pradosh Vrat: कब है फरवरी का 2 प्रदोष व्रत? नोट करें डेट, शुभ मुहूर्त, पूजन-विधि, उपाय और मंत्र

Pradosh 2024: कुछ ही दिनों में प्रदोष की तिथि पड़ेगी, जो शिव जी को समर्पित है। इस दिन पूरे विधि-विधान से भोले की आराधना करने से जीवन के कष्ट दूर हो सकते हैं।

Pradosh Vrat: कब है फरवरी का 2 प्रदोष व्रत? नोट करें डेट, शुभ मुहूर्त, पूजन-विधि, उपाय और मंत्र
Shrishti Chaubeyलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीWed, 21 Feb 2024 06:04 AM
ऐप पर पढ़ें

Pradosh 2024: फरवरी का दूसरा प्रदोष व्रत जल्द आने वाला है। इस महीने के शुक्ल पक्ष की त्रयोदशी तिथि को दूसरा प्रदोष व्रत पड़ रहा है। प्रदोष व्रत बुधवार को पड़ रहा है, इसलिए इसे बुध प्रदोष व्रत कहा जाएगा। इस दिन भगवान शिव और माता पार्वती की आराधना की जाती है। धार्मिक मान्यता है कि प्रदोष व्रत करने से साधक के सुख और सौभाग्य में वृद्धि होती है। इसलिए आइए जानते हैं प्रदोष व्रत की सही डेट, पूजा की विधि, उपाय, मंत्र और शुभ मुहूर्त-

30 साल बाद शुक्र-शनि-मंगल मिलकर मचाएंगे धमाल, इन राशियों को होगा बंपर लाभ

शुभ मुहूर्त- 
त्रयोदशी तिथि प्रारम्भ - फरवरी 21, 2024 को 11:27 ए एम बजे
त्रयोदशी तिथि समाप्त - फरवरी 22, 2024 को 01:21 पी एम बजे
दिन का प्रदोष समय - 06:02 पी एम से 08:33 पी एम
प्रदोष पूजा मुहूर्त - 06:02 पी एम से 08:33 पी एम
अवधि - 02 घण्टे 31 मिनट्स

पूजा-विधि
स्नान करने के बाद साफ वस्त्र धारण कर लें। शिव परिवार सहित सभी देवी-देवताओं की विधिवत पूजा करें। अगर व्रत रखना है तो हाथ में पवित्र जल, फूल और अक्षत लेकर व्रत रखने का संकल्प लें। फिर संध्या के समय घर के मंदिर में गोधूलि बेला में दीपक जलाएं। फिर शिव मंदिर या घर में भगवान शिव का अभिषेक करें और शिव परिवार की विधिवत पूजा-अर्चना करें। अब प्रदोष व्रत की कथा सुनें। फिर घी के दीपक से पूरी श्रद्धा के साथ भगवान शिव की आरती करें। अंत में ॐ नमः शिवाय का मंत्र-जाप करें। अंत में क्षमा प्रार्थना भी करें।

मंत्र 
ॐ नमः शिवाय

Shani कुंभ में होंगे उदय, इन राशियों का चमकेगा भाग्य 

प्रदोष उपाय 
शिव जी की असीम कृपा पाने के लिए पूजन के दौरान शिवलिंग पर चढ़ाएं ये चीजें-
1. घी
2. दही
3. फूल
4. फल
5. अक्षत
6. बेलपत्र
7. धतूरा
8. भांग
9. शहद
10. गंगाजल
11. सफेद चंदन
12. काला तिल
13. कच्चा दूध
14. हरी मूंग दाल
15. शमी का पत्ता

डिस्क्लेमर: इस आलेख में दी गई जानकारियों पर हम यह दावा नहीं करते कि ये पूर्णतया सत्य एवं सटीक हैं। विस्तृत और अधिक जानकारी के लिए संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें