DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शुक्र का राशि परिवर्तन कल, जानें 12 राशियों पर क्या पड़ेगा प्रभाव और शुक्र दोष केे उपाय

jokhan panday shastri

1 / 2jokhan panday shastri gorakhpur

shukra ka rashi parivartan

2 / 2shukra ka rashi parivartan 2019

PreviousNext

आने वाले दिनों में ग्रह नक्षत्र की चाल बदलने से आपको अपने जीवन में कई बदलाव देखने को मिल सकते हैं। दरअसल वैभव और विलासिता स्वामी और दैत्यगुरु शुरू ग्रह का राशि परिवर्तन हो रहा है। शुक्र ग्रह के राशि परिवर्तन से सभी 12 राशियों के जातकों को प्रभावित करेगा। कर्क राशि में रहने के बाद शुक्र सिंह राशि में प्रवेश कर रहे हैं। शुक्र के राशि परिवर्तन का प्रभाव 17 अगस्त से माना जाएगा। शुक्र अब सिंह राशि पर 9 सितंबर तक रहेंगे। 

पंडितों के अनुसार, शुक्र का सिंह राशि में जाना बहुत शुभ नहीं होगा क्योंकि सिंह राशि के स्वामी सूर्य के साथ शुक्र की चिर परिचित शत्रुता है। कुंडली में शुक्र को जातक के मकान, वाहन, भोग विलास, सौंदर्य, संतान सुख, राजपद आदि का कारक माना जाता है। ऐसे में इन्हीं विषयों पर शुक्र का प्रभाव देखने को मिलेगा।

गोरखपुर के ज्योतिषाचार्य डॉ जोखन पांडेय शास्त्री के अनुसार जानें किस राशि के जातक पर शुक्र के राशि परिवर्तन से क्या असर होगा -


शुक्र के राशि परिर्तन की खास बातें-

  • 17 अगस्त को पूर्वाह्न से 9 सितम्बर तक सिंह राशि में रहेंगे शुक्र 
  • कर्क से सिंह राशि में प्रवेश कर रहा शुक्र, विभिन्न राशियों पर पड़ेगा ये प्रभाव 
  • महिलाओं का महत्व बढ़ेगा, अधिकार मिलेंगे, साज-श्रृंगार के सामानों के बढ़ सकते हैं दाम 
  • साहित्य, संगीत, कला से जुड़े लोगों के लिए बन रहा है लाभकारी योग 
  • वृश्चिक, मीन और कर्क राशि वालों के लिए सावधानी बरतने की जरूरत
  • मानसिक क्लेश, घरेलू कलह के हो सकते हैं शिकार 

राशियों पर प्रभाव-


मेष राशि- मेष राशि वालों के लिए यह समय अनुकूल होगा। उन्नति के साधन उपलब्ध होंगे। कुछ रुके हुए काम सिद्ध हो सकते हैं। 

वृष- इस राशि के जातकों के लिए कर्म क्षेत्र से जुड़े हुए कार्यों में सफलता का योग है। कर्म क्षेत्र में कुछ परिवर्तन हो सकते हैं। विपरीत लिंग के सहयोगियों के प्रति काम के दौरान सतर्कता बरतने की आवश्यकता है। 

मिथुन- इस राशि वालों को आय के क्षेत्र से जुड़े हुए कार्यों में सफलता मिलेगी। पद, प्रतिष्ठा, सम्मान प्राप्त होने के संयोग उत्पन्न होंगे। स्थान परिवर्तन या पद परिवर्तन हो सकता है। 

कर्क- कर्क राशि के वालों के लिए यह समय प्रतिकूल हो सकता है। बहुत सावधान रहने की आवश्यकता है। घरेलू कलह, पारिवारिक विवाद और आर्थिक चिंता मानसिक क्लेश का कारक बन सकती है। 

सिंह- इस राशि के जातकों के लिए यह समय सामान्य रहेगा। घनिष्ठ लोगों के प्रति अत्यधिक विश्वास दु:ख का कारण बन सकता है। मानसिक क्लेश और अपव्यय, प्रवास की सम्भावना बनेगी। 

कन्या- इस राशि के जातकों के लिए यह समय लाभदायक होगा। कुछ रुके हुए कार्य बनेंगे। आर्थिक पक्ष में सुधार होगा। अपनों का स्नेह, प्रेम प्राप्त होने की सम्भावना है। 

तुला- इस राशि के लोगों के लिए यह समय अनुकूल होगा। पराक्रम, शौर्य और अपने परिश्रम के बल पर आगे बढ़ने के अवसर प्राप्त होंगे। सहयोगियों, कुटुम्बीजनों का सहयोग प्राप्त होगा। 

वृश्चिक- इस राशि के जातकों के लिए यह समय सावधानी की मांग कर रहा है। विशेष रूप से परिवार के सदस्यों के साथ व्यवहार में सतर्क रहने की जरूरत है। स्वास्थ्य की अनदेखी न करें। मधुमेह और शुक्र सम्बन्धी दोषों की प्रबलता हो सकती है। 

धनु- इस राशि वालों के लिए यह अनुकूल समय है। लेखन, पठन-पाठन, अध्ययन, अध्यापन के क्षेत्र में सफलता प्राप्त होगी। शिक्षक और विद्यार्थी वर्ग के लिए यह समय विशेष रूप से लाभदायक है। 

मकर- इस राशि के जातकों के लिए यह सामान्य समय है। मानसिक क्लेश, मित्रों से विवाद और अपव्यय की आशंका है। मधुमेह के रोगी इसमें विशेष सतर्कता बरतें। 

कुम्भ- कुम्भ राशि वालों के लिए यह समय अनुकूल है। पत्नी पक्ष से सहयोग प्राप्त होगा किन्तु पत्नी के स्वास्थ्य के बारे में जागरूक रहें। व्यापारिक वर्ग के लिए यह समय अनुकूल होगा। सफेद वस्तुओं के व्यापारी लाभ प्राप्त करेंगे। 

मीन- मीन राशि के जातकों के लिए भी यह समय प्रतिकूल है। वाहन चलाने में विशेष रूप से सतर्कता बरतें। विपरीत लिंग के सहकर्मियों से व्यवहार में सावधान रहें। सोच समझकर खर्च करें। आर्थिक पक्ष कुछ कमजोर हो सकता है। 

 

शुक्रदोष से निवारण के उपाय- 
ज्योतिषाचार्य डॉ.जोखन पांडेय शास्त्री के अनुसार शुक्र के दोष से प्रभावित जातकों को प्रात:काल सबसे पहले सफेद वस्तुओं (मखाना, मिश्री, दही, चीनी, काजू इत्यादि) का सेवन करना चाहिए। शुक्रवार के दिन सफेद वस्तुओं (चावल, चीनी, दही, नमक, आटा, वस्त्र इत्यादि) का दान करना चाहिए या गाय को खिलाना चाहिए। शुक्र के दोष से विशेष प्रभावित लोगों को शुक्र का जप कराकर गूलर की लकड़ी में सफेद तिल, मिश्री, घी, मखाना आदि से हवन करना चाहिए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Venus rashi change on 16 august know how it will affect all 12 zodiac signs
Astro Buddy