DA Image
6 मई, 2021|2:22|IST

अगली स्टोरी

दिलों की दूरियां मिटाते हैं होली के रंग, खुशियों के लिए करें यह उपाय 

होली का त्योहार खुशियों का पर्व है। होली पर जब रंग उड़ते हैं तो दिलों की दूरियां मिट जाती हैं। यह त्योहार गुलाल और रंगों के बिना अधूरा है। वास्तु के अनुसार होली को लेकर कुछ विशेष उपाय बताए गए हैं। आइए जानते हैं इन उपायों के बारे में। 

मान्यता है कि होली पर मोती शंख घर में लाने से जीवन में धन का प्रवाह बढ़ जाता है। घर, दुकान और कार्यस्थल की नजर उतारकर उसे होलिका में दहन करने से लाभ होता है। भय से निजात पाने के लिए नरसिंह स्तोत्र का पाठ करें। सफलता प्राप्ति के लिए होलिका दहन स्थल पर नारियल, पान तथा सुपारी भेंट करें। होलिका दहन के दूसरे दिन राख लेकर उसे लाल रुमाल में बांधकर पैसों के स्थान पर रखने से व्यर्थ के खर्च रुक जाते हैं। होली पर हनुमानजी को चोला और गुलाब फूल की माला चढ़ाएं। पूजन के वक्त श्रीराम और हनुमान जी का स्मरण करें। होली के दिन घर के मुख्य दरवाजे पर भगवान श्रीगणेश की मूर्ति लगाएं और घर की दक्षिण-पश्चिम दिशा में परिवार की फोटो या सूरजमुखी की तस्वीर लगाएं। घर की दक्षिण दिशा में दौड़ते हुए घोड़ों की फोटो लगाएं। होली पर घर में रंगाई करा रहे हैं तो दीवारों पर काले रंग का इस्तेमाल करने से बचें। घर की पूर्व दिशा में हरे पौधे रखें। होली के अवसर पर अपने घर में श्रीयंत्र लाएं और इसे अपने घर या दुकान की तिजोरी में स्थापित करें। होली के दिन वास्तु यंत्र को पीले रंग के वस्त्र पर स्थापित करें। होली वाले दिन सबसे पहले अपने ईष्ट देव को रंग लगाएं। पितरों के निमित्त गुलाल से तैयार रंग गणपति को अर्पित करें। घर के बुजुर्गों के माथे पर गुलाल का तिलक लगाकर होली पर्व की शुरुआत करें। होली वाले दिन घर में मोती शंख लाना शुभ माना जाता है। 

इस आलेख में दी गई जानकारियों पर हम यह दावा नहीं करते कि ये पूर्णतया सत्य एवं सटीक हैं तथा इन्हें अपनाने से अपेक्षित परिणाम मिलेगा। इन्हें अपनाने से पहले संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।