Vastu - दिवाली की तैयारी में ऐसे सजाएं बच्चों का कमरा DA Image
17 नबम्बर, 2019|3:03|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दिवाली की तैयारी में ऐसे सजाएं बच्चों का कमरा

त्योहारों की तैयारी शुरू हो गई हैं और लोग अपने-अपने घरों को सजाने संवारने में लगे हैं। बच्चों के कमरे की सफाई या फिर रंगरोगन कराना चाहते हैं तो वास्तु में बताए गए कुछ आसान से उपायों को अपनाएं। नए सिरे से बच्चों के कमरे को वास्तु के अनुकूल सजाएं। इन उपायों के सकारात्मक परिणाम जल्द ही बच्चों के व्यवहार में नजर आने लगेंगे।

बच्चों का कमरा वास्तु के अनुकूल होना चाहिए। बच्चों के कमरे में पर्याप्त रोशनी की व्यवस्था होनी चाहिए। दिन में बच्चों के कमरे में कृत्रिम रोशनी की आवश्यकता न हो। हिंसा प्रदर्शित करते चित्र बच्चों के कमरे में कभी नहीं होने चाहिए। भगवान श्रीगणेश तथा हंस पर विराजमान मां सरस्वती का चित्र बच्चों के कमरे के पूर्वी भाग की ओर लगाएं। दौड़ते हुए घोड़े की तस्वीर लगाएं। बच्चों के कमरे में पर्दों का रंग हरा, नीला या फिर पीला रखें। पर्दों का रंग दीवार के रंग से गहरा होना चाहिए। अध्ययन कक्ष में मोर, वीणा, पुस्तक, कलम, हंस, मछली आदि के चित्र लगाएं। अगर बच्चे का मन बहुत ज्यादा अशांत रहता है तो घर के उत्तर-पूर्व में ध्यान मुद्रा में बगुले का चित्र लगाएं। बच्चों की स्टडी टेबल पर टेबल लैंप रखने से उनकी एकाग्रता में वृद्धि होती है। बच्चों का मन किताबों में लगने लगता है। माहौल को उदासीन बनाने वाली कोई भी चीज बच्चों के कमरे में न हो। ध्यान रखें कि बच्चों का पलंग अधिक ऊंचा नहीं होना चाहिए। बच्चों के बेड का सिरहाना पूर्व दिशा और पैर पश्चिम की ओर होना चाहिए। नैऋत्य कोण में बच्चों की पुस्तकों की रैक तथा उनके कपड़ों की अलमारी होनी चाहिए। बच्चों के कमरे की उत्तर दिशा को खाली रखना चाहिए।

इस आलेख में दी गई जानकारियां धार्मिक आस्थाओं और लौकिक मान्यताओं पर आधारित हैं, जिसे मात्र सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर प्रस्तुत किया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Vastu