Vaastu - हंसते-मुस्कुराते कट जाएगी जीवन की राह DA Image
16 दिसंबर, 2019|12:00|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हंसते-मुस्कुराते कट जाएगी जीवन की राह

विवाह के बंधन को सात जन्मों का साथ माना जाता है। इस अटूट बंधन में बंधने के बाद पति-पत्नी दोनों ही नए जीवन का आरंभ करते हैं। सारी उम्र साथ रहने के इस बंधन में अगर हमेशा प्रेम और विश्वास बना रहे तो जिंदगी की राह बेहद आसान बन जाती है। वास्तु शास्त्र में कुछ आसान से उपाय बताए गए हैं जो जीवन के इस सफर को खुशियों से भर सकते हैं।

भगवान श्रीकृष्ण और राधा के प्रेम को आदर्श माना गया है। नवदंपति अपने शयनकक्ष में श्रीराधा-कृष्ण का चित्र लगा सकते हैं। यह चित्र अगर लाल रंग के फ्रेम में बना हो तो यह बेहतर रहेगा। लाल रंग को प्रेम और पवित्रता का प्रतीक माना जाता है। यह तस्वीर बेडरूम में ऐसी जगह लगाएं, जहां सुबह-शाम नजर पड़ती रहे। इससे पति-पत्नी के बीच प्रेम हमेशा बना रहता है। बेडरूम में कभी किसी तीसरे व्यक्ति की बातें नहीं करनी चाहिए। अगर अपनी शादी की तस्वीर लगाना चाहते हैं तो शयनकक्ष की पूर्व दिशा का ही प्रयोग करें। गलती से भी इस तस्वीर को दक्षिण दिशा में ना लगाएं। पति-पत्नी दक्षिण दिशा में सिर कर ही सोएं। बेडरूम में बेड के सामने शीशा ना हो। पति-पत्नी जिस बेड पर सोएं वह लकड़ी का बना हो। किसी अन्य वस्तु से बना बेड नकारात्मक ऊर्जा ला सकता है। बेडरूम में धार्मिक तस्वीरें न लगाएं। सुखी दांपत्य जीवन के लिए घर में शिव परिवार की स्थापना करें। घर में सुख-शांति के लिए घर के मंदिर में बांसुरी को रखें। इसके प्रभाव से घर में मां लक्ष्मी का वास बना रहता है और वास्तुदोष भी दूर हो जाते हैं।

इस आलेख में दी गई जानकारियों पर हम यह दावा नहीं करते कि ये पूर्णतया सत्य एवं सटीक हैं तथा इन्हें अपनाने से अपेक्षित परिणाम मिलेगा। इन्हें अपनाने से पहले संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Vaastu