ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News AstrologyUtpanna Ekadashi 2023 date shubh muhurat and upay to please lord vishnu for health wealth and prosperity

Utpanna Ekadashi 2023 : उत्पन्ना एकादशी पर करें ये सरल उपाय, विष्णुजी की कृपा से सुख-सौभाग्य में होगी वृद्धि

Utpanna Ekadashi Upay 2023 : हर साल मार्गशीर्ष माह कृष्ण पक्ष की एकादशी तिथि को उत्पन्ना एकादशी मनाया जाता है। मान्यता है कि इस दिन विष्णुजी की पूजा करने से सुख-सौभाग्य में वृद्धि होती है।

Utpanna Ekadashi 2023 : उत्पन्ना एकादशी पर करें ये सरल उपाय, विष्णुजी की कृपा से सुख-सौभाग्य में होगी वृद्धि
Arti Tripathiलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीMon, 04 Dec 2023 05:25 AM
ऐप पर पढ़ें

Utpanna Ekadashi 2023 Date :  हिंदू धर्म में उत्पन्ना एकादशी का बड़ा महत्व है। मान्यता है कि उत्पन्ना एकादशी से ही एकादशी व्रत रखने की शुरुआत हुई थी। इस दिन भगवान विष्णुजी की पूजा-अराधना करना बेहद शुभ माना जाता है। हर साल मार्गशीर्ष यानी अगहन माह के कृष्ण पक्ष की एकादशी तिथि को उत्पन्ना एकादशी मनाई जाती है। इस साल 8 दिसंबर को उत्पन्ना एकादशी का व्रत रखा जाएगा। धार्मिक मान्यता है कि उत्पन्ना एकादशी का व्रत करने से मां लक्ष्मी और श्रीहरि विष्णु का आशीर्वाद प्राप्त होता है और सुख-सौभाग्य में वृद्धि होती है। आइए साल 2023 में उत्पन्ना एकादशी का शुभ मुहूर्त और विशेष उपाय जानते हैं।

उत्पन्ना एकादशी का शुभ मुहूर्त : पंचांग के अनुसार, अगहन माह कृष्ण पक्ष की एकादशी तिथि का आरंभ 8 दिसंबर को 8 दिसंबर को सुबह 5 बजकर 6 मिनट पर होगा और 9 दिसंबर को सुबह 6 बजकर 30 मिनट पर समाप्त होगा। ऐसे में  उदयातिथि के अनुसार, 8 दिसंबर को एकादशी का व्रत रखा जाएगा।

उत्पन्ना एकादशी के उपाय : उत्पन्ना एकादशी के दिन एकादशी माता की उत्पत्ति हुई थी। मान्यता है कि देवी एकादशी विष्णुजी के अंश से जन्मीं थी। इसलिए इस दिन से ही एकादशी व्रत की शुरुआत हुई थी। उत्पन्ना एकादशी के दिन भगवान विष्णु को प्रसन्न करने के लिए कई उपाय भी किए जाते हैं।

गृह-क्लेश से मुक्ति के लिए : उत्पन्ना एकादशी के दिन विष्णुजी और मां लक्ष्मी की विधि-विधानसे पूजा करें। इस दिन घर के मंदिर में दक्षिणावर्ती शंख स्थापित करना बेहद शुभ माना गया है। मान्यता है कि इससे घर में सुख-शांति आती है और गृह-क्लेश से मुक्ति मिलती है।

धन-दौलत में वृद्धि के लिए : अगर आपके घर में भी पैसा नहीं टिकता है, तो  उत्पन्ना एकादशी के दिन विष्णुजी के पूजा के दौरान उन्हें गुंजाफल अर्पित करें और पूजा के बाद गुंजाफल को तिजोरी में रख लें। कहा जाता है कि ऐसा करने से पैसों की तंगी दूर होती है और घर में सुख-समृद्धि आती है।

सुख-सौभाग्य में वृद्धि के उपाय : भगवान विष्णु को तुलसी अति प्रिय है। इस दिन सायंकाल में तुलसी के पौधे की पास घी का दीपक प्रज्ज्वलित करें और ऊँ नमो भगवते वासुदेवाय नमः मंत्र का जाप करें। मान्यता है कि ऐसा करने से जातक के सुख-सौभाग्य में वृद्धि होती है और जीवन के सभी कष्ट दूर होते हैं।

डिस्क्लेमर: इस आलेख में दी गई जानकारियों पर हम दावा नहीं करते कि ये पूर्णतया सत्य है और सटीक है। इन्हें अपनाने से पहले संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।
 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें