DA Image
28 जनवरी, 2020|5:31|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वृंदावन के निधिवन में आधी रात को रासलीला रचाने आते हैं गोपियों संग श्रीकृष्ण, जानें क्या है पौराणिक मान्यता

lord krishna

दुनिया में कुछ रहस्य ऐसे हैं, जिनके बारे में कई अलग-अलग कहानियां मिलती हैं।ऐसा ही एक रहस्य है वृंदावन में स्थित निधिवन से जुड़ा हुआ, जो श्रीकृष्ण और गोपियों की रासलीला के लिए प्रसिद्ध है।हाल ही में यह वन उस वक्त सुर्खियों में आ गया था, जब बिहार से आई एक युवती यहां रहस्य पर से पर्दा उठाने की मंशा लिए, वन में छिपकर बैठ गई थी।लड़की को सामाजिक कार्यकर्ताओं की मदद से वन से बाहर निकाला गया।ऐसे में सभी के मन में सवाल रहता है कि इस जगह की आखिर सच्चाई क्या है।आइए, जानते हैं पौराणिक कहानियों के अनुसार यहां की क्या मान्यता है- 

तुलसी के पेड़ बनते है गोपियां
निधिवन में तुलसी के पेड़ हैं।यहां तुलसी का हर पौधा जोड़े में है।मान्यता है कि जब श्रीकृष्ण और राधा रासलीला करते हैं तो ये तुलसी के पौधे गोपियां बन जाती हैं और प्रात: होने पर तुलसी के पौधे में परिवर्तित हो जाते हैं। यहां लगे वृक्षों की शाखाएं ऊपर की ओर नहीं बल्कि नीचे की ओर बढ़ती हैं। ये पेड़ ऐसे फैले हैं कि रास्ता बनाने के लिए इन पेड़ों को डंडे के सहारे रोका गया है।


वन के आसपास बने मकानों में नहीं हैं खिड़कियां
वन के समीप बने घरों में उस तरफ खिड़कियां नहीं बनाते। स्थानीय लोगों का मानना है कि शाम के बाद कोई इस वन की तरफ नहीं देखता।जिन लोगों ने देखने का प्रयास किया वे अंधे हो गए या फिर पागल हो गए। शाम सात बजे मंदिर की आरती का घंटा बजते ही लोग खिड़कियां बंद कर लेते हैं।कुछ लोगों ने वन की तरफ बनी खिड़कियों को ईंटों से बंद करवा दिया है। जिससे कोई चाहकर भी इस वन की तरफ नहीं देख सके।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:The ultimate mystery of lord krishna rasleela with gopis in nidhivan