ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News AstrologySurya Grahan 2024 Timing 2024 sutak kaal different Surya grahan Solar Eclipse date and time in india

Surya Grahan 2024: इतनी देर तक दिखेगा साल का पहला सूर्य ग्रहण, भारत में कब होगा सूतक काल

Surya Grahan 2024 Timing Solar eclipse time: सात साल पहले अमेरिका में जो ग्रहण दिखाई दिया था वो 2 मिनट 42 सेकेंड तक था। इसके बाद अब इस साल लगने वाला ग्रहण 4 मिनट 28 सेकेंज तक दिखाई देगा। जब अमेरिका से

Surya Grahan 2024: इतनी देर तक दिखेगा साल का पहला सूर्य ग्रहण, भारत में कब होगा सूतक काल
Anuradha Pandeyलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीFri, 09 Feb 2024 10:00 AM
ऐप पर पढ़ें

Eclipse in india 2024: इस साल साल का पहला सूर्य ग्रहण  कुछ ही महीनों बाद 8 अप्रैल यानी चैत्र मास की अमावस्या पर लगने वाला है। इस साल का पहला ग्रहण अमेरिका में दिखाई देगा। साल 2017 के बाद से यह ग्रहण सबसे ज्यादा समय के लिए दिखने वाला ग्रहण होगा। सात साल पहले अमेरिका में जो ग्रहण दिखाई दिया था वो 2 मिनट 42 सेकेंड तक था। इसके बाद अब इस साल लगने वाला ग्रहण 4 मिनट 28 सेकेंज तक दिखाई देगा। जब अमेरिका से हटकर ये कनाडा में दिखाई देगा, तो इसकी अवधि 3 मिनट 21 सेकेंड की होगी। आपको बता दें कि साल का पहला सूर्य ग्रहण 8 अप्रैल चैत्र मास की अमावस्या पर लगेगा। भारत में ग्रहण के दिखाई देने पर इसका ज्योतिषिय और धार्मिक महत्व होता है। अगर भारत में ग्रहण दिखाई देता है, तो उसका सूतक काल माना जाता है। इसके सूतक काल के कारण मंदिरों में पूजा पाठ आदि नहीं की जाती है। आुको बता दें कि 8 अप्रैल यानी चैत्र मास की अमावस्या जो नवरात्र से पहले आती है, उस दिन ग्रहण लग रहा है। लेकिनन यह ग्रहण माना नहीं जाएगा। यह भारत में दिखाई नहीं देगा और न इसका सूतक काल माना जाएगा। अप्रैल के पूर्ण सूर्य ग्रहण से पहले, आधे ग्रह पर एक हल्का उपछाया चंद्र ग्रहण दिखाई देगा, जो केवल पूर्णिमा पर लग रहा है। 

साल 2024 का पहला सूर्यग्रहण पश्चिमी एशिया,दक्षिण-पश्चिम यूरोप, ऑस्ट्रेलिया, अफ्रीका, उत्तरी अमेरिका, दक्षिणी अमेरिका, अटलांटिक महासागर, उत्तरी धुव्र, दक्षिणी धुव्र और अफ्रीका में नजर आएगा। भारत में सूर्य ग्रहण नहीं दिखेगा। इसलिए सूतक काल भी मान्य नहीं होगी।

कब लगता है सूर्य ग्रहण
सूर्य ग्रहण घटित होने के लिए पृथ्वी के चारों ओर चंद्रमा का कक्षीय पथ आकाश (क्रांतिवृत्त) के माध्यम से सूर्य के पथ के संबंध में 5 प्रतिशत झुका हुआ है।  जब ऐसा अमावस्या पर होता है तो यह सूर्य ग्रहण होता है।

 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें