DA Image
2 जुलाई, 2020|11:46|IST

अगली स्टोरी

Surya Grahan 2020: 21 जून को सूर्य का 88% भाग तीन घंटे 22 मिनट तक चंद्रमा की ओट में रहेगा

surya grahan 2019 live

साल 2020 की सबसे बड़ी खगोलीय घटना अगले महीने होने जा रही है। तारीख होगी 21 जून। घटना होगी आंशिक सूर्यग्रहण की। लखनऊ के लोगों को 21 जुलाई 2009 के बाद सबसे अधिक समय और अब तक का सबसे बड़ा ग्रहण देखने को मिलेगा।

ग्रहण के दौरान सूर्य का लगभग 88 प्रतिशत हिस्सा चंद्रमा द्वारा ढक लिया जाएगा। आंशिक सूर्य ग्रहण रविवार को 10:26 से शुरू होकर 1:58 बजे तक रहेगा। मतलब तीन घंटे 32 मिनट तक।

सूर्य ग्रहण तब होता है जब चंद्रमा पृथ्वी और सूर्य के बीच से गुजरता है। इस छल्लेदार सूर्य ग्रहण को देखने के लिये खगोल शास्त्री इंतजार करते हैं। वर्ष 2009 के बाद इस तरह की खगोलीय घटना सामने नहीं आई। 12 साल बाद इंतजार खत्म हुआ। इंदिरा गांधी नक्षत्रालय के वैज्ञानिक अधिकारी सुमित श्रीवास्तव के मुताबिक इस सूर्यग्रहण का इंतजार खगोलीय शास्त्री काफी समय से कर रहे थे। यह छल्लेदार सूर्य ग्रहण होगा और लखनऊ में आंशिक दिखेगा। राजस्थान , उत्तराखंड के कुछ हिस्सों से पूर्ण छल्लेदार दिखाई देगा। उन्होंने बताया कि नक्षत्रालय की ओर से ऑनलाइन स्क्रीन के माध्यम से इसे लोग देख सकें ऐसी व्यवस्था की जाएगी

5 जून से 5 जुलाई के बीच पड़ेंगे 3 ग्रहण जानकारी के अनुसार पांच जून से पांच जुलाई तक कुल तीन ग्रहण पड़ने जा रहे हैं। इनको ज्योतिषी शुभ नहीं मान रहे हैं। पांच जून से लेकर पांच जुलाई के बीच दो चंद्र और एक सूर्य ग्रहण हैं। ज्योतिष विद्वानों का इस विषय में मत है कि जब भी एक माह में दो से अधिक ग्रहण होते हैं तो परिणाम शुभ नहीं होता है। हालांकि खगोल शा्त्रिरयों के मुताबिक पांच जून को उत्छाई (पतली हल्की छाया) चंद्रग्रहण और पांच जुलाई वाला चंद्र ग्रहण भारत में दिखाई नहीं देगा।

 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Surya Grahan 2020: Solar eclipse 21 june On 21 June 88 percent of the Sun will be in the moon shadow for three hours 22 minutes