DA Image
28 जनवरी, 2020|10:53|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

16 दिसंबर से सूर्य का राशि परिवर्तन, खरमास शुरू होने से मांगलिक कार्य नहीं

marriage

इस वर्ष 16 दिसम्बर को सूर्य वृश्चिक राशि से निकलकर देवगुरू बृहस्पति की धनु राशि में प्रवेश करेगा। सूर्य की धनु संक्रान्ति के कारण खरमास शुरू होने से मांगलिक कार्य नहीं होंगे।

स्वास्तिक ज्योतिष केन्द के ज्योतिषाचार्य एस.एस.नागपाल और ज्योतिषी आनन्द दुबे के अनुसार मकर संक्रान्ति के बाद 15 जनवरी 2020 से मांगलिक कार्य की शुुरुआत हो सकेगी। विवाह मुहूर्त में गुरू शुक्र अस्त का भी विचार किया जाता है। अच्छा शुक्र भोग विलास का नैसर्गिक कारक है और दाम्पत्य सुख दर्शाता है। गुरू कन्या के लिये पति सुख का कारक है। दोनों ग्रहों का शुभ विवाह हेतु उदय शास्त्र सम्मत है। 16 दिसम्बर से गुरू भी अस्त हो जायेगा और 9 जनवरी को गुरू उदय होगा। ज्योतिषी आनन्द दुबे ने बताया कि 14 मार्च से 13 अप्रैल 2020 तक सूर्य मीन राशि में रहेगा। इस समय भी मांगलिक कार्य नहीं होंगे। नये वर्ष में 79 से अधिक विवाह मुर्हूत मिलेंगे।

15 जनवरी से शादियों का मुहूर्त शुरू होगा

' जनवरी 2020-15, 16,17 18 19 20 21 29, 30, 31

' फरवरी-3, 4 5 9, 10, 11, 12, 13, 14, 16 17 18 19 20 25 26, 27

' मार्च-1, 2, 3 7, 8, 9, 11 12 13

' अप्रैल-14, 15, 25, 26, 27

' मई-1 2,3 4 6, 7, 8, 9 10 11 12, 13, 17, 18, 19, 23, 24, 25,

' जून-13, 14, 15 25, 26, 27, 28, 29, 30

' नवम्बर-26, 29, 30

' दिसम्बर-1 2 6, 7, 8 9 10, 11

 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Sun sign changes from December 16 After that Kharmas starts