Success tips five simple ways to increase your peace of mind - Success Tips : सफलता पाने के लिए जरुरी है मानसिक शांति, इन 5 बातों से रख सकते हैं मन शांत DA Image
6 दिसंबर, 2019|4:13|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

Success Tips : सफलता पाने के लिए जरुरी है मानसिक शांति, इन 5 बातों से रख सकते हैं मन शांत

peace

जीवन में सफलता हासिल करने के लिए बहुत जरुरी है मानसिक शांति, इसके बिना आप किसी भी चीज पर फोकस नहीं कर सकते। आप कितनी भी रणनीतियां बना लें लेकिन जब तक आपका मन शांत नहीं रहेगा, आप अपना सौ प्रतिशत किसी भी काम को नहीं दे पाएंगे। आइए, जानते हैं कैसे पाएं मानसिक शांति- 

मानवता बनाएं रखें 
हमारे धर्मग्रंथों में काम, क्रोध, मद, लोभ, मोह को बड़ी मानवीय दुर्बलता की श्रेणी में रखा गया है। ज्य़ादातर लोग ऐसी कामनाओं से प्रेरित होकर अपने जीवन को दुखमय बना लेते हैं। ज्य़ादा सुख-समृद्धि हासिल करने की होड़ परिवार और समाज में अशांति की सबसे बड़ी वजह है। सब कुछ हासिल कर लेने के बाद भी लोग कुछ और ज्य़ादा पाने के लोभ में एक-दूसरे से छीना-झपटी कर रहे हैं। ऐसी ही मानसिकता की वजह से देश बंटते हैं और युद्ध होते हैं। चाहे देश हो या समाज, चारों ओर घोर निराशा और असुरक्षा का माहौल है। यही भावना लोगों को दूसरों से लडऩे के लिए उकसाती है। आप इन बातों से ऊपर उठते ही हमेशा मानवता को ही चुनें, इससे आप में सकारात्मकता का संचार होगा।


आलोचना को करें अनसुना 
लोगों की सहनशक्ति इतनी कमज़ोर हो गई है कि अपनी इच्छा के विरुद्ध कोई भी बात सुनते ही लोगों का गुस्सा फूट पड़ता है। क्रोध में पागल व्यक्ति अपने-पराए का फर्क भूलकर हिंसक व्यवहार पर उतर आता है। छोटी-छोटी नाकामियों की वजह से लोग हताशा के शिकार हो जाते हैं। जब भी आप अपने बारे में फिजूल की बातें सुनें, तो अपने-आप से सवाल करें कि हमारे जीवन का लक्ष्य क्या है? क्या हम अपने कर्तव्यों का निर्वाह ईमानदारी से कर रहे हैं? क्या ये बुराई करने वाले लोग हमारे जीवन में महत्व रखते हैं? आपको उत्तर मिल जाएगा।

 

अनुशासन रखें 
हमें अपनी दिनचर्या को अनुशासित करना होगा क्योंकि बच्चे भी बड़ों का ही अनुसरण करते हैं। निष्क्रियता से व्यक्ति के मन में नकारात्मक भावनाओं का संचार होता है इसलिए हमें हमेशा सक्रिय रहने की कोशिश करनी चाहिए और छोटी उम्र से ही अपने बच्चों में भी ऐसी ही आदतें विकसित करनी चाहिए।

 

रास्ते को पहचानें 
बौद्ध दर्शन भी व्यक्ति को आत्मनियंत्रण की शिक्षा देता है और इसी के बूते लालच, क्रोध और अहंकार से बचा जा सकता है। ब्रह्मपुराण में कहा गया है कि मनुष्य अपने चंचल चित्त पर नियंत्रण से क्रोध और इच्छा की त्याग से लोभ पर विजय पा लेता है। वह अपने आचरण से मन और वाणी को साधता है, निरंतर सजगता से डर को हराता है। ज्ञानियों की सेवा और मार्गदर्शन से अहंकार को मिटाता है। 


मन में हो विश्वास
आज ज्य़ादातर लोग प्रभुता, प्रसिद्धि और दौलत के पीछे भाग रहे हैं। अव सवाल यह उठता है कि इससे मुक्ति कैसे हासिल हो? एक संतुलित, प्रफुल्ल और सकारात्मक जीवन के लिए धर्म की राह पर चलना आवश्यक है। आप खुद पर भरोसा रखकर आगे बढ़ते रहें।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Success tips five simple ways to increase your peace of mind