DA Image
17 मई, 2020|4:20|IST

अगली स्टोरी

Success Mantra : वीर हनुमान के इन 5 गुणों को अपनाकर निडर होकर अपना लक्ष्य पा सकते हैं आप 

e

भगवान हनुमान को श्रीराम का परम भक्त होने के साथ एक निडर योद्धा के रूप में भी जाना जाता है। उन्हें भय और पीड़ा नाशक भी माना जाता है। वहीं उनके ऐसे कई गुण हैं, जिन्हें अपनाकर व्यक्तित्व विकास के साथ अपने लक्ष्य को प्राप्त किया जा सकता है। 

हिम्मत से आगे बढ़ना 
हनुमान ने जब सूर्य को आम समझ खाने की ठानी, तो सभी हैरान रह गए थे। क्योंकि ऐसा होना संभव नहीं था। मगर इस काम को भी उन्होंने संभव कर दिखाया। बेशक यह एक ऐसी घटना है जिसके लिए खास शक्ति‍यां होनी चाहिए लेकिन सबसे बड़ी सीख यह है कि जब यह हनुमान ने सोचा तब उन्हें भी अपनी शक्ति का पता नहीं था। ऐसे में उनके पास थी केवल हिम्मत। 

 

अपनी क्षमता को पहचानना 
जब हनुमान समुद्र पार करने में स्वयं को असमर्थ पा रहे थे, तब जामवंत ने हनुमान से यही कहा, 'का चुप साधि रहा बलवाना'। यानी अरे, हनुमान, तुम तो बहुत बलवान हो, तुमने चुप्पी क्यों साध रखी है। यही वो क्षण था जब अपने अंदर की शक्तिक को पहचान कर हनुमान ने समुद्र भी पार कर लिया था। ठीक ऐसा हमारे साथ भी होता है, हम अक्सनर खुद को कम आंकते हैं। अपने हुनर की दूसरों से तुलना भी कर बैठते हैं। लेकिन हमारे अंदर भी वही क्षमता है, जो दूसरे के पास है। इसलिए हमेशा खुद पर विश्वाठस रखें।


अच्छाई पर भरोसा रखते हुए भला करो 
हम जैसा करते हैं वैसा ही हमारे पास वापस आता है। इसका उदाहरण हमें इंद्र की ओर से चोट पहुंचाए जाने के दौरान मिलता है। हनुमान को गहरी चोट आती है जो ठीक भी हो जाती है। यही नहीं सभी देवी-देवता उन्हें आशीर्वाद देने आते हैं। सभी से उन्हें वरदान में शक्तियां और आशीर्वाद मिलते हैं। यह घटना बताती है कि जीवन में अच्छे कर्म करो, तो आपके साथ अच्छा ही होता है।

 

बिना किसी स्वार्थ के काम करना 
राम से मिलकर हनुमान ने उन्हें अपना गुरु मान लिया था। राम को लंका पहुंचाने से लेकर अयोध्या आने तक हनुमार निस्वाहर्थ भाव से हर काम में डटे रहे। यह सब उनकी भक्ति ही तो थी, जिसके लिए उन्होंने सब किया। जीवन में इस चीज का होना बहुत जरूरी है क्योंकि हम अक्सर काम को शुरू करने से पहले उसके साथ जुड़ा अपना फायदा भी देखने लग जाते हैं।

 

परिस्थिति के साथ खुद को बदलना
रामायण में कई ऐसी घटनाएं है, जहां हनुमान ने इस बात को समझाया है कि हर बार परिस्थिति के सामने अड़े रहना समाधान नहीं होता है। जब चीजें बदलना हमारे हाथ में नहीं हो, तो हालात को समझते हुए खुद को बदलना समस्यान का सबसे बड़ा समाधान होता है।


 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Success Mantra Hanuman Jayanti special here are five things all of us should learn from Lord Hanuman