DA Image
25 जुलाई, 2020|1:05|IST

अगली स्टोरी

solar eclipse june 21, 2020: पूर्ण सूर्य ग्रहण 10:00AM से शुरू, उत्तर भारत समेत कई देशों में दिखेगा यह ग्रहण

 solar eclipse 2019 late start mumbai railways ranji trophy match due to surya grahan 2019

solar eclipse june 21, 2020: साल का पहला सूर्य ग्रहण आज, रविवार (21 जून 2020) को सुबह 10:00 बजे से शुरू हो चुका है। यह दोपहर बाद 03:04 बजे तक रहेगा। इस ग्रहण का मध्य 12:10 के आसपास रहेगा में जिसमें सूर्य एक वलय/फायर रिंग/चूड़ामणि के रूप में नजर आएगा। इस ग्रहण केे शुरू होने का आदर्श समय 09:15AM है लेकिन लोग इसे 10:00AM के बारद ही देख सकेगे। 21 जून यानी कल रविवार को पड़ने वाले ग्रहण का सूतक काल 10:00PM से शुरू हो चुका है। हिन्दू/सनातन धर्म में आस्था रखने वाले लोग सूतक काल मानते हैं। इस दौरान पूजा घर और मंदिरों के पट बंद रहते हैं। लोग ग्रहण सूतककाल से पहले ही अपने देवी देवताओं की पूजा करके उनके पट/गेट बंद कर देते हैं। इसके बाद ग्रहण सूतककाल समाप्त होने पर लोग फिर मंदिर और पूजा घरों को खोलते हैं, मूर्तियों में गंगाजल छिड़कर उन्हें पवित्र करते हैँ और विधिवित पूजा पाठ पहले की तरह शुरू करते हैं।


क्या है ग्रहण सूतककाल?
ज्योतिषाचार्यों के अनुसार, किसी भी पूर्ण ग्रहण के शुरू होने से 12 घंटे पहले का समय सूतककाल कहलाता है। मान्यता है कि इस दौरान मंदिरों में पूजा पाठ या कोई शुभ कार्य नहीं किया जाता। सूतककाल समाप्त होने के बाद ही मंदिर खुलते हैं और लोग पूजा अनुष्ठान शुरू करते हैं।


6 घंटे लंबा होगा ग्रहणकाल-
21 जून को सुबह 9:15 बजे ग्रहण शुरू हो जाएगा और 12:10 बजे दोपहर में पूर्ण ग्रहण दिखेगा। इस दौरान कुछ देर के लिए हल्क अंधेरा सा छा जाएगा। इसके बाद 03:04 बजे ग्रहण समाप्त होगा। यानी यह ग्रहण करीब 6 घंटे लंबा होगा। लंबे ग्रहण की वजह से पूरी दुनिया में इसकी चर्चा हो रही है।

 

गर्भवती महिलाएं रखें विशेष सावधानी-
भारतीय मान्यताओं के अनुसार, ग्रणह शुरू होने से लेकर ग्रहण समाप्त होने तक यानी ग्रहणकाल (21 जून को 09:15AM से 03:04PM तक) में गर्भवती महिलाओं को विशेष सावधानी बरतनी चाहिए। घर के बुजुर्गों या अपने पंडित की सलाह के अनुसार ही जरूरी उपाय अपनाएं। माना जाता है कि ग्रहण के दौरान महिलाओं को घर से बाहर नहीं निकलना चाहिए। हालांकि मन में किसी प्रकार का भय या चिंता नहीं रखनी चाहिए। ग्रहण वाले दिन को भी आम दिनों की तरह एक सामान्य दिन मानना चाहिए।

 

जिन शहरों या इलाकों में आसमान पर बादल हैं या बारिश हो रही है वे घर बैठे ही सूर्य ग्रहण लाइव स्ट्रीमिंग देख सकते हैं। इसके लिए दिल्ली के नेहरू तारामंडल ने https://tinyurl.com/ybz9t3ec लिंक पर वेबकास्ट की व्यवस्था की है। वहीं, बेंगलुरु के नेहरू तारामंडल की वेबसाइट www.taralaya.org पर भी ऑनलाइन देखने की व्यवस्था की गई है।  

इन लिंक पर क्लिक कर देख सकेंगे सूर्य ग्रहण की लाइव स्ट्रीमिंग
Facebook Link:
https://www.facebook.com/aries.nainital263002/live

YouTube Link:
https://www.youtube.com/channel/UCG2LKvORv_L2vBL4uCuojnQ


 

यह भी पढ़ें- Surya Grahan 2020 : 21 जून को पड़ने वाले ग्रहण में 6 घंटे का होगा ग्रहण काल, देखिए राशियों पर इसका असर
 

सूर्य ग्रहण के दौरान ध्यान रखें ये बातें-
- बच्चों से लेकर बड़ों तक कोई भी इस ग्रहण को नंगी आंख से न देखें। नासा के अनुसार, सूर्य ग्रहण को देखने के लिए सोलर फिल्टर ग्लास वाले चश्में का इस्तेमाल करें।
-यह भी सलाह है कि घर के बनाए जुगाड़ वाले चश्मे या किसी लेंस से सूर्य ग्रहण न देखें। इससे आपकी आंख पर बुरा असर हो सकता है।
- ग्रहण के वक्त आकाश की ओर देखने से पहले सोलर फिल्टर चश्मा लगाएं और नजर नीचे करने के बाद या ग्रहण समाप्त होने के बाद ही इसे हटाएं।
- एक अमेरिकी संस्था के अनुसार, ग्रहण के वक्त कार/अन्य वाहन न चलाएं।
-लेकिन यदि कोई ग्रहण के वक्त रास्ते में ही है तो वह अपने वाहन की हेडलाइट जलाकर और अन्य वाहनों से कुछ दूरी बनाकर ही वाहन चलाए। ड्राइविंग में विशेष सावधानी बरतने की हिदायत है।
- बच्चों को यदि ग्रहण दिखाने का प्लान बना रहे हैं तो उनकी आखों को बचाने वाले सोलर फिल्टर चश्मे की व्यवस्था जरूर कर लें।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:solar eclipse june 21 2020: Surya grahan to be held tomorrow from 9:30 AM and Sutakkaal to start from 9:15 PM today