अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सूर्य ग्रहण 2018: ज्योतिष के अनुसार सूर्य ग्रहण के पहले और बाद में जरूर माननी चाहिए ये बातें

solar energy

13 जुलाई आषाढ़ अमावस्या के दिन पड़ रहा है सूर्य ग्रहण। यह सूर्य ग्रहण भारत में दिखा नहीं देगा। इंग्लैंड के ग्रीनविच शहर में यह दोपहर 1:30 बजे नजर आएगा और अमेरिका के पूर्वी तट पर सुबह 9:30 बजे दिखेगा। नासा की मानें तो आंशिक सूर्य ग्रहण अब शुक्रवार को 2080 में होगा।ज्योतिषियों के अनुसार ग्रहण से जुड़े कुछ नियम मानना बहुत जरूरी है।

यहां पढ़ें सूर्य ग्रहण का समय
13 जुलाई को आषाढ़ कृष्ण पक्ष अमावस्या
प्रात: 7 बजकर 18 मिनट और 23 सेकंड से शुरू और मोक्ष 9 बजकर 43 मिनट 44 सेकंड बजे होगा।

ज्योतिषियों के अनुसार सूर्य ग्रहण लगने से पहले दूध-दही जैसी चीजों में तुलसी के पत्ते डालकर रखने चाहिए।
जिस वक्‍त सूर्य ग्रहण लगा होता है उस अवधि को सूतक काल कहते हैं, ज्योतिषियों के अनुसार सूतक का प्रभाव नहीं पड़ेगा। लेकिन इस अवधि में पूजा-पाठ और मूर्ति पूजा नहीं की जाती है। ऐसा भी कहा जाता है कि सूर्य ग्रहण के समय सोना और खाना नहीं चाहिए।

इस आलेख में दी गई जानकारियां धार्मिक आस्थाओं और लौकिक मान्यताओं पर आधारित हैंजिसे मात्र सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर प्रस्तुत किया गया है।

गुप्त नवरात्रि 2018: पुष्य नक्षत्र में होगी नवरात्रि की शुरुआत, जानें क्या है पूजा का सर्वश्रेष्ठ समय

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Solar Eclipse 2018: Looks like solar eclipse on 13th July keep these things special