अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सक्सेस मंत्र: सकारात्मक सोच साथ बढ़ाए गए छोटे कदम भी दिलाएंगे कामयाबी

fish

एक बार एक युवक शाम की सैर करने समुद्र तट पहुंचा। उसने देखा कि कुछ दूरी पर एक शख्स झुक कर कुछ उठा रहा है और उसे पानी में फेंक रहा है। इस पर युवक ने पास जाकर देखा तो पाया कि तेज लहरों से रेत पर आ गई मछलियों को वह वापस पानी में फेंक रहा है। 

युवक ने पूछा, 'इन मछलियों को पानी में क्यों फेंक रहे हैं?

आदमी बोला, 'ज्वार का पानी उतर रहा है और सूरज की गर्मी बढ़ रही है। अगर इन्हें पानी नहीं मिला तो ये मर जाएंगी।'

 

यूवक ने देखा कि समुद्र तट पर दूर-दूर तक मछलियां पड़ी हैं। उसने पूछा, 'इस तट पर बहुत दूर तक न जाने कितनी मछलियां पड़ी हैं, इस तरह कुछ मछलियों को पानी में फेकने से क्या मिलेगा। इससे क्या फर्क पड़ जाएगा?

 

शख्स युवकी बात को अनसुना करते हुए फिर रेत पर झुका और एक और मछली उठाकर पानी में फेंकते हुए बोला, 'मुझे और दुनिया को इससे कुछ मिले या न मिले लेकिन इस मछली को सब कुछ मिल जाएगा।'


इस कहानी का सार यह है कि किसी के किसी का काम उसकी सोच को झलकाता है। जब कोई सकारात्मक सोच से छोटे छोटे प्रयास करता है तो एक दिन जरूर दूसरों के लिए प्ररेणास्रोत बनता है। हमारे यहां प्रचलित कहावत- "बूंद बूंद से घड़ा भरता है।" शायद इसी कहानी का सार है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:small step with positive attitude will bring you success