significance of yellow colour in Basant Panchami - क्या है बसंत पंचमी का महत्व, जानें क्यों होता है पीला रंग इस्तेमाल DA Image
22 नवंबर, 2019|7:32|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

क्या है बसंत पंचमी का महत्व, जानें क्यों होता है पीला रंग इस्तेमाल

बसंत पंचमी

सर्दी के महीनों के बाद वसंत और फसल की शुरूआत होने के रूप बसंत पचंमी का त्योहार मनाया जाता है। इस साल बसंत पचंमी का त्योहार 22 जनवरी को मनाया जाएगा। बसंत पंचमी के दिन मां सरस्वती की विशेष रूप से पूजा की जाती है। मां सरस्वती को विद्या एवं बुद्धि की देवी माना जाता है। बसंत पंचमी के दिन उनसे विद्या, बुद्धि, कला एवं ज्ञान का वरदान मांगा जाता है। 

इस दिन लोग पीले रंग के कपड़े पहनते है, पतंग उड़ाते है और मीठे पीले रंग के चावल का सेवन करते है। पीले रंग को बसंत का प्रतीक मानते है। बंसत ऋतु को सभी मौसमों में बड़ा माना जाता है। इस मौसम में न तो चिलचिलाती धूप होती है, न सर्दी और न ही बारीश, वसंत में पेड़-पौधों पर ताजे फल और फूल खिलते हैं।

यह है पूजा का शुभ मुहूर्त

बसंत पंचमी पूजा मुहूर्त: 07:17 
अवधि 5 घंटे 15 मिनट

पंचमी तिथि प्रारंभ: 21 जनवरी 2018 रविवार को 15:33 बजे से

पंचमी तिथि समाप्त: 22 जनवरी 2018 सोमवार को 16:24 बजे तक

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:significance of yellow colour in Basant Panchami