DA Image
2 अप्रैल, 2020|3:16|IST

अगली स्टोरी

आज का पंचांग 21 फरवरी: महा शिवरात्रि व्रत आज, 1903 में आया था ऐसा दिन

आज का पंचांग

आज महा शिवरात्रि व्रत है। आज राहुकाल का समय प्रात: 10.30 से मध्याह्न 12 बजे तक रहेगा। इस दौरान कोई शुभकार्य नहीं किए जाते। वैद्यनाथ जयंती। चतुर्दशी ज्योतिर्लिंग दर्शन पूजन तिथि काल रात्रि 11.47 बजे से रात्रि 12. 38 बजे तक। सूर्य उत्तरायण। सूर्य दक्षिण गोल। वसंत ऋतु। 
21 फरवरी, शुक्रवार, 2 फाल्गुन (सौर) शक 1941, 9 फाल्गुन मास प्रविष्टे 2076, 26 जमादि उस्सानी सन् हिजरी 1441, फाल्गुन कृष्ण त्रयोदशी सायं 5.22 बजे तक उपरांत चतुर्दशी, उत्तराषाढ़ा नक्षत्र प्रात: 9. 13 बजे तक तदनंतर श्रवण नक्षत्र, व्यतीपात योग प्रात: 7.08 बजे तक उपरांत वरीयान योग, वणिज करण, चंद्रमा मकर राशि में (दिन-रात)।

महशिवरात्रि 2020: 117 सालों बना ऐसा योग, जानें शिवरात्रि पूजा विधि, शुभ मुहूर्त, शिव मंत्र समेत सब कुछ

117 वर्षों बाद बना ऐसा योग
हिंदू पंचांग में महाशिवरात्रि का पर्व बेहद खास माना गया है लेकिन इस बार यह पर्व और भी अधिक खास है। 117 साल बाद शिवरात्रि पर शनि अपनी स्वयं की राशि मकर में और शुक्र ग्रह अपनी उच्च राशि मीन में है। यह एक दुर्लभ योग है, जब यह दोनों बड़े ग्रह शिवरात्रि पर इस स्थिति में है। इससे पहले 25 फरवरी 1903 को ठीक ऐसा ही योग बना था और शिवरात्रि मनाई गई थी। आज महाशिवरात्रि पर सर्वार्थ सिद्धि योग भी है। बुध और सूर्य कुंभ राशि में एक साथ हैं। इस वजह से बुध-आदित्य योग बनेगा। इसके अलावा इस दिन सभी ग्रह राहु-केतु के मध्य रहेंगे। इस वजह से सर्प योग भी बन रहा है। शिवरात्रि पर राहु मिथुन राशि में और केतु धनु राशि में रहेगा। शेष सभी ग्रह राहु-केतु के बीच रहेंगे। सूर्य और बुध कुंभ राशि में, शनि और चंद्र मकर राशि में, मंगल और गुरु धनु राशि में, शुक्र मीन राशि में रहेगा।

पं. वेणीमाधव गोस्वामी
 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Shivratri Panchang 2020: know mahashivratri panchang rahukal timing shiv pooja time shiva wishes images photo