DA Image
1 दिसंबर, 2020|8:49|IST

अगली स्टोरी

Navratri 2020: नवरात्रि के दौरान इस तरह करें दुर्गा सप्तशती का पाठ, नियम और सावधानियां भी जान लें

Shardiya Navratri Puja 2020: नवरात्रि के दौरान दुर्गा सप्तशती का पाठ करने से विशेष फल की प्राप्ति होती है। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार इस पाठ को करने से मां भगवती प्रसन्न होकर अपने भक्तों की सभी इच्छाओं को पूरा करती हैं। दुर्गा सप्तशती का पाठ तेरह अध्यायो और तीन चरणो में बंटा हुआ है। इस पाठ को करने के लिए कुछ खास नियम और सावधानियां बताई गई हैं। आइए जानते हैं आखिर किया हैं वो खास नियम और सावधानियां जिनका पालन करने पर मां दुर्गा भक्तों पर प्रसन्न होती हैं। 

दुर्गा सप्तशती का पाठ करने के खास नियम-
-दुर्गा सप्तशती का पाठ करते समय भक्त को शुद्धता का विशेष ध्यान रखना चाहिए। 
- दुर्गा सप्तशती का पाठ करने से पहले सर्वप्रथम स्नानादि करके स्वच्छ वस्त्र धारण करने चाहिए। 
-बैठने के लिए कुशा के आसन का प्रयोग करें अगर आपके पास कुशा का आसन नहीं है तो ऊन के बने हुए आसन का प्रयोग कर सकते हैं।
-पाठ शुरू करने से पहले गणेश जी एवं सभी देवगणों को प्रणाम करें। माथे पर चंदन या रोली का तिलक लगाएं। 
-लाल पुष्प, अक्षत एवं जल मां को अर्पित करते हुए पाठ का संकल्प लें। 
-इसके बाद पाठ को आरंभ करने से पहले उत्कीलन मंत्र का जापकरें। इस मंत्र को आरंभ और अंत में 21 बार जप करना चाहिए।
-इसके बाद मां दुर्गा का ध्यान करते हुए पाठ का आरंभ करें। इस तरह से मां दुर्गा सप्तशती का पाठ करने पर सभी मनोकामनाएं पूरी होती है।

सावधानियां-
-दुर्गा सप्तशती का पाठ न ज्यादा तेज स्वर में करें न ज्यादा धीमी आवाज में करें।
-दुर्गा सप्तशती का पाठ करते समय उच्चारण स्पष्ट होना चाहिए।
-अगर आप एक दिन में पाठ पूरा नहीं कर सकते हैं, तो कम से कम जो अध्याय आरंभ किया है उसे पूरा करके ही उठे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:shardiya navratri puja 2020: know the right way to do durga saptshati path and its rules and niyam in hindi to get the blessings of goddess durga